हामी भरना सीआरपीएफ के एक सब इंस्पेक्टर को भारी पड़ा


अजमेर. लोन देने के नाम पर आए कॉल पर हामी भरना सीआरपीएफ के एक सब इंस्पेक्टर को भारी पड़ा। कॉलर ने बैंक संबंधित दस्तावेज हासिल कर खाते से पौने 2 लाख रुपए की नकदी साफ कर दी। पीडि़त सब इंस्पेक्टर ने गंज थाने में रिपोर्ट दी। पुलिस ने धोखधड़ी का मुकदमा दर्जकर अनुसंधान शुरू कर दिया।

हैडकांस्टेबल भागचन्द ने बताया कि सीआरपीएफ जीसी-2 फॉयसागर रोड में तैनात उप निरीक्षक विक्रमसिंह ने रिपोर्ट दी। उसमें बताया कि उसे 31 जुलाई को कॉल आया। कॉलर ने खुदको रिलायन्स कस्टमर केयर से बोलने बताते हुए ऋण के लिए पूछा। एसआई सिंह ने ऋण लेने के लिए हामीभर दी। कुछ देर बात कॉलर का फिर से कॉल आया। उसने विक्रमसिंह से उनका आधार कार्ड, पैन कार्ड और बैंक की पासबुक की फोटो मांगी। उन्होंने तीनों दस्तावेज की फोटो कॉलर को भेज दी।
साढ़े तीन लाख का लोन पास
एसआई विक्रमसिंह ने बताया कि उसको एक मैसेज आया। जिसमें उसके साढ़े तीन लाख रुपए का लोन अप्रूव होने की जानकारी दी गई थी। इसके बाद उसके बैंक खाते से एक लाख 78 हजार 849 रुपए की निकासी हो गई। रकम निकासी के दो दिन बाद तक कॉलर उससे ओर रकम की डिमांड करता रहा। पुलिस ने एसआई विक्रम सिंह की रिपोर्ट पर मुकदमा दर्जकर अनुसंधान शुरू कर दिया। प्रकरण में अनुसंधान थानाधिकारी धर्मवीर सिंह जांच कर रहे हैं।

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

VIDEO आसींद में युवक से मारपीट, तोड़फोड़, आगजनी का प्रयास, बाजार बंद, दो के खिलाफ रेप का मामला दर्ज

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद