सत्संग में आने और लाने वाले दोनों पुण्य के भागी: महामंडलेश्वर अनंतदेव

 

भीलवाड़ा । वामदेव ज्योतिरमठ वृंदावन के संस्थापक, रामधाम के संरक्षक एवं अखिल भारतीय संत समिति के वरिष्ठ उपाध्यक्ष महामंडलेश्वर अनंत देव गिरी महाराज (वृंदावन) ने कहा कि‍ निष्ठा व आत्मविश्वास श्रद्धा का परिणाम है। सत्संग में आने वाले और सत्संग में किसी को लेकर आने वाले दोनों ही पुण्य के भागी है। प्रेम विश्वास पर टीका है विश्वासघात करने वाला व्यक्ति कभी प्रेमी नहीं हो सकता है। वर्तमान में बड़े व्यक्ति से सभी सबंध रखना चाहते है लेकिन भगवान से सबंधों का अभाव है। मनुष्य को समझना चाहिए की भगवान सबसे बड़े है और हमे हर हाल में उनसे संबंध बनाना होगा। रामधाम की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा की यह भारत में अच्छा स्थान है। यह एक ऐसा स्थान है जहां राम-रामेश्वरम की प्रतिमा एक साथ है। यहां 12 महीनें  गौसेवा, संत सेवा, निर्धन सेवा, रामायण पाठ सहित नवरात्रि में सभी त्यौहारों, पूर्णिमा पर हवन, पूजन अर्चन सहित विशेष आयोजन होते है। श्री रामधाम रामायण मंडल ट्रस्ट के अध्यक्ष सूर्यप्रकाश मानसिंहका ने बताया की  प्रवचन में महामंडलेश्वर के साथ काशी, बनारस के दंडी स्वामी सर्वेश्वरानंद तीर्थ, स्वामी अवधेश आश्रम,  वामदेव आश्रम के नारायण चेतन स्वामी,  स्वामी लक्ष्मण चेतन महाराज, परमहंस वामदेव ज्योर्तिमठ वृन्दावन के स्वामी मितानंद महाराज बंगाली बाबा, सुधेश कुमार फगवाड़ा आदि का भी दर्शनलाभ मिल रहा है। रामधाम में संत तुलसीदास जी की जयंती 7 श्रावण सुदी 15 अगस्त को मनाई जाएगी। इस मौके पर अखंड रामायण पाठ का आयोजन होगा। 14 अगस्त को सुबह 10 बजे पाठ शुरू होगा। 15 अगस्त को पाठ की पुर्णाहुति होगी। दुसरी ओर सावन मास के चलते रामधाम के शिवालय में शिव जी की पूजा अर्चना व अभिषेक जारी है। रामधाम में सरल गीता पाठ के आयोजन को लेकर पुस्तक गीता प्रेस गोरखपुर द्वारा प्रकाशित की गई है जो रामधाम में 50 रुपए शुल्क में उपलब्ध है। स्वास्थ्य हित के विवेक चुड़ामणी भी 20 रुपए में उपलब्ध है। प्रवचनों का प्रतिदिन सुबह 9 से 10 बजे तक फेसबूक व यूटयूब पर लाइव प्रसारण हो रहा है। वीणा मानसिंहका ने बताया कि वेदांत पर स्वाध्याय प्रतिदिन शाम 4:00 बजे  हो रहा है।  कार्यक्रम में इस मौके पर वरिष्ठ संस्थापक सदस्य बंशीलाल सोडाणी, उपाध्यक्ष हेमंत मानसिंहका, दीपक मानसिंहका, ओमप्रकाश लढ़ा, ओम अग्रवाल, प्रतिभा मानसिंहका, सत्यनारायण सोमाणी, गोपाल अग्रवाल ने संत श्री का आर्शीवाद लिया। रामधाम में प्रतिदिन सुबह 6:00 से 7:00 तक योगाचार्य उमाशंकर के सानिध्य में योग कक्षा लग रही है। शिविर में योग से रोग दूर भगाने के नुस्खे बताए जा रहे हैं। 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक