इस बार भी जन्माष्टमी पर नहीं सजेगी झांकियां, लगेगा मिश्री माखन का भोग

 


भीलवाड़ा (हलचल)। जन्माष्टमी पर इस बार भी झांकियां नहीं सजेगी लेकिन मंदिरों के भीतर जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाने की तैयारियां की जा रही है। संकट मोचन हनुमान मंदिर में मिश्री माखन और पंजेरी का भोग लगेगा। 
संकट मोचन हनुमान मंदिर के महंत बाबूगिरी महाराज ने हलचल को बताया कि 30 अगस्त को जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। इस साल भी दूसरी बार मंदिर के बाहर आकर्षक झांकियां भक्तों को देखने को नहीं मिलेगी। जबकि हर वर्ष यहां एक दर्जन से ज्यादा झांकियां सजाई जाती है जिन्हें देखने के लिए देर रात तक लोगों की कतारें लगती है। उन्होंने बताया कि इस बार जन्माष्टमी पर बालाजी को डायमण्ड का चोला चढ़ाया जाएगा। बाल गोपाल का दूध, दही और शहद से अभिषेक किया जाएगा। जबकि पंजेरी और मिश्री माखन का भोग लगाया जाएगा और 11 किलो का केक काटा जाएगा। मंदिर में रंग बिरंगे फूलों से सजावट होगी और मंदिर को विद्युत चलित लाईटों से सजाया जाएगा।
पेच एरिया स्थित बालाजी मंदिर के पंडित आशुतोष शर्मा ने बताया कि जन्माष्टमी पर्व पर मंदिर परिसर में झांकी सजाई जाएगी। फूलों का श्रृंगार किया जाएगा। हनुमान जी का रजत श्रृंगार किया जाएगा। प्राकट्य काल में भगवान कृष्ण का दुग्धाभिषेक किया जाएगा। रात्रि 12 बजे आरती के बाद प्रसाद वितरण किया जाएगा। सभी कार्यक्रमों का कोरोना नियमों की पालना की जाएगी। 
बड़ा मंदिर, लक्ष्मीनारायण मंदिर, गणेश मंदिर, गांधी नगर स्थित शनि देव मंदिर में भी धूमधाम से कृष्ण जन्माष्टमी पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक