पति-पत्नी का कलह सुख- शांति, संपत्ति एवं प्रतिष्ठा को समाप्त कर देता है चैतन्य महाराज

 

भीलवाड़ा हलचल। बाल ब्रह्मचारी अनन्त विभूषित त्रयम्बकेश्वर चैतन्य महाराज ने कहा की पति-पत्नी का कलह परिवार की सुख शांति संपत्ति एवं प्रतिष्ठा को समाप्त कर देता है। जब व्यक्ति की इच्छा पूर्ति नहीं होती है तो क्रोध आ जाता है। झगड़ा मिटाने एवं करने के अनेकों बहाने हैं। संत श्री गुरुवार को हरिशेवा धाम उदासीन आश्रम सनातन मंदिर में प्रवचन दे रहे थे। उन्होंने कहा कि अपने माता-पिता के गुण बच्चों में आते ही आते हैं। जब मन असंतोष से भरे होते हैं तो छोटी सी बात भी व्यथित करती है। जब हम आनंद में होते हैं तो कटु बड़े अपराध को ध्यान में नहीं लाते है और व्यथित नहीं होते हैं। पद की मर्यादाओं में बंधने के बाद व्यक्ति सेवा नहीं कर सकता है। पद पर जाने के बाद व्यक्ति अपने मौलिक स्वरूप को खो देता है। सनातन धर्म के प्रारम्भकर्ता, तिथि, वेद, शास्त्र किसने लिखे किसी को नहीं पता है। अन्य धर्मों की पुस्तके, प्रवर्तन सबकी जानकारी है। विश्व युवा दिवस पर बोलते हुए संत श्री ने कहा कि भारतीय संस्कृति में कोई 1 दिन नहीं हो सकता लेकिन विश्व रूप में मनाया जा रहा है। हमारी संस्कृति रही कि राजा युवराज अपना शासन छोड़कर वन में तपस्या के लिए चले जाते रहे हैं। युवा शक्ति को अपने आदर्श चिन्हित करने चाहिए । जो मारते हैं वह उद्यत है उसे मारने में पाप नहीं लगता है। विष्णु एवं शिव एक ही है जैसे दो दीपक के प्रकाश में कोई अंतर नहीं होता है। कार्यक्रम प्रवक्ता रजनीकांत आचार्य ने बताया की कार्यक्रम के प्रारंभ में नारायण स्वामी महाराज ने कहा कि केवल भगवान का भजन ही मनुष्य का सुरक्षा कवच है। भक्ति एवं भजन की महिमा उन्होंने बताई। इससे पूर्व ओम शर्मा ने तूने अजब रचा भगवान खिलौना माटी का भजन गाया। आयोजक परिवार के राधेश्याम अग्रवाल ने बताया की हरिशेवा धाम उदासीन आश्रम सनातन मन्दिर में महामंडलेश्वर हंसराम उदासीन महाराज के सानिध्य में प्रवचन प्रतिदिन अपराह्न 3 से शाम 5 बजे तक चल रहे है। प्रवचन का फेसबुक पर सीधा व यूट्यूब पर शाम को प्रसारण किया जा रहा है। संयोजक परिवार के छीतरमल, कृष्ण गोपाल व प्रह्लाद अग्रवाल ने बताया की संत श्री के साथ  दंडी स्वामी प्रबोधाश्रम महाराज, नृसिंह भारती महाराज, आचार्य हरि ओम महाराज, स्वामी नारायण महाराज, ब्रह्मचारी देवेश महाराज भी ज्ञान गंगा बहा रहे हैं। महाराज श्री का स्वागत अरणोद से किशोर सोनी, समाजसेवी एवं किसान ओम प्रकाश चावला,  संजय कॉलोनी माहेश्वरी सभा के अध्यक्ष प्रह्लाद नवाल, रामप्रकाश पोरवाल ने किया। 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक