पूर्व नगरीय विकास मंत्री बोले भाजपा सत्ता में आई तो अब विकास नहीं, बदले की कार्रवाई करेंगे

 

चितौड़गढ़ (हलचल)भाजपा नेता एवं पूर्व नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी के विवादित बोल सामने आए हैं। जिसमें उन्होंने कहा कि अब भाजपा सत्ता में आने पर कोई विकास के काम नहीं कराएगी, बल्कि कांग्रेसियों के खिलाफ बदले की कार्रवाई करेगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं को कांग्रेस के उन सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं की सूची बनाने को कहा, जिनसे बदला लेना है। कृपलानी चित्तौड़गढ़ जिले में भाजपा के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सोशल मीडिया पर वायरल उनका संबोधन चर्चा का विषय बना हुआ है। लोग इसे सीधे तौर पर कांग्रेस सरकार में मौजूदा सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना को टारगेट किया जाना बता रहे हैं।

पूर्व मंत्री कृपलानी ने कहा कि यह तय है कि अगली बार भाजपा की सरकार बनेगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि कांग्रेसियों को किसी तरह का सहयोग नहीं करना है। उन्होंने कहा कि विकास की बातें तो बहुत हो चुकी, हमारी सरकार अब विकास की बजाय टारगेट पर ध्यान देगी यानी कांग्रेसियों के खिलाफ सीधे बदले की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यहां तक भी कहा कि बदलाव का समय आ गया है और इसके लिए श्रीचंद को अपनी जान तक गंवानी पड़े तो चिंता की बात नहीं।

 

यह भी पढ़ें

Rajasthan Rain: राजस्थान में चार दिन भारी बारिश की चेतावनी

 

श्रीचंद कृपलानी और उदयलाल आंजना एक-दूसरे के धुर विरोधी

राजस्थान सरकार में सहकारिता मंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष उदयलाल आंजना और भाजपा के श्रीचंद कृपलानी एक-दूसरे के धुर विरोधी नेता है। दोनों चित्तौड़गढ़ जिले की निम्बाहेड़ा विधानसभा से चुनाव लड़ते हैं। दोनों एक-एक बार सांसद रह चुके हैं तथा विधानसभा चुनाव में एक-दूसरे से जीत दर्ज कर चुके हैं। दोनों ही नेता एक-दूसरे पर कटाक्ष के चलते चर्चा में बने रहते हैं। कृपलानी के सत्ता में आने के बाद कांग्रेसियों के खिलाफ सीधी कार्रवाई के बयान को लोग सीधे तौर पर सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना से ही जोड़कर देख रहे हैं। 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक