बिस्किट हो या फिर भुजिया, नम हो गए फूड आइटम्स के सेवन से खराब हो सकता है आपका पेट

 


कई बार हम अपनी आदतों से बीमारियों को बुलावा देते हैं और फिर अगर इसकी वजह से परेशानी बढ़ा जाती है तो पछताते हैं। वैसे तो इसमें कई आदतें शामिल हैं लेकिन आज हम यहां ऐसी एक आदत के बारे में बात करेंगे जो लालच के चक्कर में हम देखते हुए भी अनदेखा कर देते हैं और वो है नम यानी सील गई चीज़ों का सेवन। जी हां, अगर आप नम हो चुकी चीज़ों को फेंकने के डर से या स्वाद के चक्कर में खा जाते हैं तो ये बहुत ही बड़ी गलती है जो सेहत पर भारी पड़ सकती है।

कुछ लोग नम हो गई चीज़ों को गर्म कर या फिर फ्रिज में कुछ देर रखने के बाद सोचते हैं कि ये खाने लायक हो चुकी है तो ऐसा नहीं होता। ये किसी भी तरह से खाने लायक नहीं रह जाते। 

नमी से क्या हो सकती है प्रॉब्लम

नमी की वजह से सबसे पहले फंफूद लगना शुरू होता है जो बॉडी में एलर्जी की वजह बन सकता है। और तो और इससे सांस से जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं। तबियत खराब हो सकती है। उल्टी, डायरिया भी शुरू हो जाता है। 

ऐसे बचाएं खानपान की चीज़ों को नम होने से

- स्नैक्स को कभी भी खुला न छोड़ें। किसी एयर टाइट डंबे में ही रखें।

- बचे हुए भोजन को फ्रिज में या जहां कहीं भी स्टोर कर रहे हैं ऐसे डिब्बे या बर्तन में रखें जिसका ढक्कन बंद किया जा सके। 

- पैकेट वाली चीज़ों को इस्तेमाल के बाद वापस पैक करते समय उसके अंदर की हवा निकाल दें। 

- रात की बची हुई रोटी, दाल में फफूंद लगने पर बिल्कुल भी न खाएं। 

 - चिप्स, नमकीन, बिस्किट्स के पैकेट को सील करने के लिए स्टैप्लर मार दें।

- पापड़ या दूसरे फ्राइड आइटम्स को जितना खाना हो उतना ही बनाएं।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक