मानसून डेस्टिनेशन बना ‘’मेनाल’’

 


चित्तौड़गढ़। ‘’मेनाल’’ को अब मानसून डेस्टिनेशन के रूप में लोग पसंद कर रहे हैं। अब यहाँ के खुबसुरत झरने को देखने दूर-दूर से लोग आ रहे हैं और इसकी खूबसूरती को एकटक निहार रहे हैं। इधर पर्यटन विभाग ने भी इसके लिए मानसून डेस्टिनेशन कार्य योजना बनाई है। विभाग द्वारा यहाँ इस स्थल को अब प्रमोट किया जाएगा ताकि अनजान लोग भी इसके बारे में जान सके। अब तक हिमाचल, महाराष्ट्र के पहाड़ों में बादल, बारिश की तस्वीरों और गोवा बीच के वीडियो ही लोग वीडियो क्लिप में देखते थे। अब उसी तरह मेवाड़ में मानसून के नजारे निहारेंगे। राजस्थान में मानसून डेस्टिनेशन को प्रसारित करने के लिए पर्यटन विभाग ने पहले चरण में उदयपुर, राजसमंद और बांसवाड़ा के पर्यटन स्थलों की वीडियो शूटिंग शुरू की है, जो 7 अगस्त तक चलेगी।

चित्तौड़गढ़ पर्यटन विभाग ने जिले के ऐसे स्थलों का प्रस्ताव भेजा है जो बारिश में अलग छटा के दिखते हैं इसके लिए पांच ब्लोगर्स एवं इनफ्लुएंसर्स को आमंत्रित किया है। इनके सोशल मीडिया पर हजारों फॉलोअर्स हैं, जिसमें देश-दुनिया के पर्यटक मानसून में यहां की खूबसूरती को देख सकेंगे
    सहायक पर्यटन अधिकारी शरद व्यास का कहना है कि विभाग मेवाड़ के सभी प्रमुख ऐसे रमणीक स्थलों के वीडियो शूट करवा रहा है जिले के एक दर्जन स्थलों को चिन्हित कर प्रस्ताव भेजा है।

जिले निलिया महादेव, बस्सी पॉइंट, मेनाल, जोगणिया माता, रावतभाटा क्षेत्र में चूलिया का हाल है गोसुंडा, गंभीरी, बस्सी बांध, निंबाहेड़ा के बाड़ी मानसरोवर, निकटवर्ती प्रतापगढ़ के गौतमेश्वर आदि स्थलों को प्रमोट करने के लिए लिखा है। भैंसरोड़गढ़ क्षेत्र में बाडोली मंदिर के पास, विजयपुर घाटा और केल्जर के झरने की जानकारी भेजी जा रही है मेनाल के साथ साथ आप सेवन फॉल और मिंडकी महादेव के झरनों का आनंद उठा सकते है इसके अलावा आप बिजौलिया नामक स्थान से मात्र 8 किमी दूर भड़क्या माताजी के जल प्रपात का भी लुफ्त उठा सकते हैं जो की काफी प्रसिद्ध है।

 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक