कोरोना संक्रमण के चलते जमीनों के भाव जमीन पर, नहीं मिल रहे है खरीददार

 


भीलवाड़ा (हलचल) कोरोना संक्रमण के चलते जमीनों के भाव जमीन पर आये है और तीसरी लहर की संभावनाओं को लेकर प्रोपर्टी की खरीद फरोख्त लगभग बन्द सी हो गई है। आवश्यकतानुसार ही अब खरीद फरोख्त हो रही है। छोटे भूखण्ड पर जरूर बिक रहे है। बड़े सौदे लगभग नहीं हो पा रहे है। इन्वेस्टर अब जमीनी सौदों से हाथ खींच रहे है। 
जानकार सूत्रों के अनुसार कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका को लेकर प्रोपर्टी व्यवसायियों में ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। एक कारोबारी का कहना है कि जमीनों में इन्वेस्ट करने वाले लोग अभी इस ओर रूख नहीं कर रहे है। या यूं कहे कि अभी पैसों को संभालकर रखने की परिपाटी चल पड़ी है। इसके चलते यह माना जा रहा है कि कोरोना संक्रमण में अकस्मात जरूरत पड़ी तो वे कहां से पैसा जायेंगे। इसी का परिणाम है कि जमीनों के सौदे थम से गए है और जमीनें वही लोग खरीद रहे है जिन्हें आवश्यकता है। या फिर मौके का कोई फायदे का सौदा है तो इन्वेस्टर इन्हें खरीदने में दिलचस्पी दिखा रहे है।
एक अन्य प्रोपर्टी व्यवसायी का कहना है कि छोटे मकान और भूखण्डों की खरीद फोरख्त हो रही है लेकिन वह भी तौलमोल कर खरीदे जा रहे है। कई इन्वेस्टर अपनी जमीन निकालने में लगे है। इसके पीछे ब्याज की बड़ी मार बताई जा रही है। यही नहीं कॉलोनाइजर भी विकट स्थिति में है। करोड़ों रुपए खर्च करके कॉलोनियां बसाने वाले इन लोगों को अब बड़े भूखण्डों के खरीददार नहीं मिल पा रहे है। 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !