रक्षाबंधन पर बांधिए इन भगवानों को राखी, पूरी होंगी सभी मनोकामनाएं

 


रक्षाबंधन का त्योहार सावन मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। इस साल रक्षाबंधन 22 अगस्त को मनाया जाएगा । वैसे तो राखी का त्योहार भाई-बहन के प्यार का प्रतीक माना जाता है। रक्षा बंधन के दिन बहने अपने भाईयों की कलाई पर रक्षा सूत्र या राखी बांधती है। इसके साथ घर के पालतू पशुओं, पेड़-पौधों को भी राखी बांधी जाती है। लेकिन क्या आपकों मालूम है कि भगवानों को भी राखी बांधी जाती है। इस राखी पर जानिए किस भगवान को कौन सी राखी बांधने से होंगी आपकी मनोकामनाएं पूरी...

1-गणेश जी-

गणेश जी प्रथम पूज्य भगवान है, राखी के दिन सबसे पहले गणेश जी को राखी बांधनी चाहिए। गणेश जी को लाल रंग प्रिय है, इसलिये मान्यता है कि गणेश जी को लाल रंग की राखी बांधने से जीवन के सभी कष्ट और संकट दूर हो जाते हैं तथा ऋद्धि-सिद्धि की प्राप्ति होती है।

2- भगवान शंकर-

राखी का त्योहार सावन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। सावन महीने का अंतिम दिन होने के कारण इस दिन भगवान शिव को राखी बांधने से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

3- भगवान विष्णु -

भगवान विष्णु का प्रिय रंग पीला है, विष्णु जी को पीले रंग की राखी बांधना विशेष रूप से फलदायी है। भगवान विष्णु को हल्दी का तिलक लगाना चाहिए। इससे माता लक्ष्मी की भी कृपा प्राप्त होती है।

4-श्री कृष्ण -

भगवन कृष्ण द्रौपदी को अपनी बहन मानते थे तथा उनकी रक्षा का वचन दिया था। इसी कारण जब द्रौपदी को हस्तिनापुर की सभा में दुश्शासन चीर हरण कर रहा था तब भगवान कृष्ण ने चीर बढ़ा कर द्रौपदी के मान की रक्षा की थी। भगवान कृष्ण के राखी बांधने से सभी परिस्थितियां में रक्षा करते हैं।

5-हनुमान जी -

हनुमान जी संकट मोचक और रुद्रावतार माने जाते हैं। हनुमान जी को लाल रंग की राखी बांधनी चाहिए। ऐसा करने से मंगल ग्रह को शांत किया जा सकता है तथा बल और बुद्धि की प्राप्ति होती है।

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।'

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक