जिउतिया पर्व के स्नान के दौरान नदी में डूबने से छह की मौत

 

पटना. बिहार में जिउतिया पर्व में स्नान करने के दौरान दो अलग अलग घटनाओं में डूबने से छह की मौत हो गई. पहली घटना अरवल जिले की है. यहां पर सोन नदी में डूबने से चार बच्चों की मौत हो गई. वहीं दो बच्चे गंभीर रूप से जख्मी हैं. पुलिस के अनुसार जिउतिया पर्व को लेकर सोन नदी में महिलाएं स्नान करने गई थी. उनके साथ बच्चे भी गए थे. बालू निकासी के कारण सोन नदी के घाटों पर काफी गहराई है, बच्चों को स्नान करने के दौरान इसका अंदाजा नहीं हुआ और वे स्नान करने वहां ही चले गए. जिसके कारण यह हादसा हुआ.

यह हादसा अरवल जिले के आगानूर चौकी कामता मठिया और अरवल घाट पर घटित हुई है. आनन-फानन में सभी को इलाज के लिए सदर अस्पताल में लाया गया लेकिन चिकित्सकों ने उनमें से चार को मृत घोषित कर दिया जबकि ग्रामीणों के प्रयास से दो बच्चों को बचा लिया गया है. लोक पर्व के दिन इस प्रकार का हादसा होने के बाद पूरे जिले में शोक का माहौल कायम हो गया है. घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय विधायक महानंद सिंह भी पीड़ित परिजनों से मिले, विधायक ने पीड़ति परिवारों के लिए मुआवजे की राशि की मांग भी की है.

इधर, सीवान में भी जिउतिया के दौरान नदी में स्नान करने के क्रम में दो लोग डूब गए जिससे दोनों की मौत हो गई. घटना जामो थाना क्षेत्र के डुमरा गांव की है. गांव की सरिता देवी अपने भतीजा सुमित कुमार के साथ नदी में नहाने गई थी तभी अचानक दोनों डूब गए. घंटों बाद ग्रामीणों ने शव को नदी से बाहर निकाला तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी.

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !