पीडब्ल्यूडी के ठेकेदार ने बिना पौधे लगाए ही ईटों के घेरे बनाकर बता दिए पौधे

 

बेरा (भेरू लाल गुर्जर) । आसींद उपखंड क्षेत्र के गागलास से  रानीखेड़ा रायला तक पीडब्ल्यूडी कि सड़क को ठेकेदार द्वारा नव निर्माण करवाकर सड़क के दोनों तरफ पौधे लगा कर कंप्लीट देना था लेकिन ठेकेदार द्वारा सड़क के दोनों तरफ जहां छोटे से अंग्रेजी बबूल के पेड़ व खाकरे का पेड़ दिखा जहां इटोक  के गहरे बनवा कर कंप्लीट करवा दिया जैसे कि नया पेड़ लगाया है लेकिन जैसे ही गहरे से घटा गिरने लगी तो लोगों को पता चला कि रोड के दोनों तरफ एक भी पेड़ नहीं लगाया है ठेकेदार द्वारा प्रगति पर खिलवाड़ किया है केवल सिर्फ ही कागजों में ही पेड़ गिना दिए हैं गांव के मनीष सुहालका का ने बताया कि रोड के दोनों तरफ ठेकेदार को पौधे लगाकर कंप्लीट रोड देना था लेकिन ठेकेदार ने केवल फॉर्मेलिटी पूरी कर एक भी पेड़ पौधा नहीं लगाया और कच्ची ईट से ट्री गार्ड बनाकर छोड़ दिया जो भी घटिया निर्माण से बना हुआ है जो सारी ईटबिखर गई है मौके पर एक भी पेड़ नहीं है सरपंच रामनिवास कुमावत ने बताया कि गागलास से रानी खेड़ा रायला पीडब्ल्यूडी ठेकेदारद्वारा रोड बनाकर रोड के दोनों तरफ पौधे लगाकर रोड कंप्लीट विभाग को सौंपना था लेकिन ठेकेदार ने केवल फॉर्मेलिटी पूरी करने के लिए कागजों में ही पेड़ पौधे दशा दिए मौके पर एक भी पेड़ नहीं लगाया है केवल दिखावा करने के लिए अंग्रेजी बम बोल के छोटे-छोटे पेड़ों को ईटों के गहरे बनाकर छोड़ दिए जो भी ईट बिखर कर लोग उठा उठा कर ले जा रहे हैं प्रगति को बचाने के लिए पेड़ पौधा लगाना जरूरी होता है जहां देखो वहां अभियान चलाकर लोग तो पेड़ पौधे लगा रहे हैं और इधर विभाग के ठेकेदार प्रगति के खिलाफ खिलवाड़ कर रहे हैं।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

शीतलाष्टमी की पूजा आज देर रात से, रंगोत्सव (festival of colors) कल लेकिन फैली है यह अफवाह ...!

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज