आंध्र प्रदेश में भारी बारिश के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त, जानें- गुलाब तूफान से जुड़े सभी ताजा अपडेट

 

नई दिल्ली। चक्रवात गुलाब तूफान का असर अगले 6 घंटों के भीतर और कमजोर हो जाएगा। मौसम विभाग ने अपने ताजा अपडेट में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि 28 सितंबर 2021 को सुबह 5.30 बजे तक तूफान का दवाब तेलंगाना के आसपास के क्षेत्रों के अलावा महाराष्ट्र के मराठवाड़ा और विदर्भ के आसपास बना रहा। साथ ही बताया कि अगले 6 घंटों में यह तूफान कमजोर हो जाएगा।

बता दें कि बंगाल की खाड़ी से उठे इस तूफान ने मानसूनी बारिश के बीच एक बार फिर से लोगों को जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है। इसका प्रभाव ज्यादातर आंध्र प्रदेश में देखने को मिला। यहां पर इस तूफान के चलते बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। कई इलाकों में भारी जलजमाव भी देखने को मिला। किसानों की फसले भी क्षतिग्रस्त हो गई है। इतना ही नहीं इस तूफान ओडिशा में भी भारी तबाही मचाई है। लगातार मौसम विभाग की तरफ से इस तूफान से संबंधित अलर्ट जारी किया जा रहा है।

चक्रवात गुलाब तूफान के चलते देश के मौसम पर भी असर पड़ रहा है। मध्य प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़ सहित गुजरात में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं कई राज्यों में इस तूफान का असर आज भी देखने को मिलेगा।

बुधावर को बंगाल तट पर पहुंचेगा गुलाब तूफान

चक्रवात का असर बिहार में भी देखने को मिला। यहां पर कई जिलों में अचानक से मौसम ने करवट ले ली है। भागलपुर और इसके आसपास के जिलों में बारिश दर्ज हुई है। वहीं तूफान गुलाब का धनबाद में आंशिक असर देखने को मिल रहा है। उधर, आपदा को देखते हुए पश्चिम बंगाल सरकार ने विशेष सतर्कता का निर्देश दिया है। यह चक्रवात बुधवार को बंगाल तट पर पहुंचेगा। इसके मद्देनजर कोलकाता में भारी बारिश का अनुमान है। मंगलवार को 6 जिलों में और बुधवार को 12 जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक