बागा का खेडा प्राइमरी स्कूल में शिक्षकों की कमी

 


रायला । बेहतरीन शिक्षा देने के सरकार भले ही लाखों दावे कर ले लेकिन इन दावों की धरातल पर पोल खुलती नजर आ रही है। सरेरी  के बागा का खेडा स्कूल में 2 अध्यापक के सहारे स्कूल  चल रही हैं। वही जहाँ पहले 5 अध्यापक का स्टाफ था वहां 3 अध्यापक को बीएलओ की जिम्मेदारी दे दी गई जिस कारण पीछे रहे दो अध्यापक के सहारे ही स्कूल  रामभरोसे चल रही है।

प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों की भारी कमी के चलते अभिभावकों का शिक्षा विभाग व सरकार के प्रति आक्रोश बढ़ रहा है। गाँव की स्कूल में 2 अध्यापक होने से बचो की तरफ पूरा ध्यान नही दिया जा सकता है वही स्कूल में करिब 200 विद्यार्थी अध्यनरत है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना