सिंगोली नीमच रोड़ पर ताल नदी में फिर आया उफान, 4 घण्टे लगा जाम

 

सिंगोली (दि‍नेश जोशी)। तहसील मुख्यालय से करीब 10 किलोमीटर दूर ग्राम ताल के पास बहने वाली ब्राह्मणी की सहायक नदी एक बार फिर उफान पर आ गई है। रविवार रात करीब 8:30 बजे बाद क्षैत्र में शुरू हुई जोरदार बारिश से ताल नदी एक बार फिर उफान पर आ गई। 

बतादें कि यह नदी नीमच-  सिंगोली सड़क मार्ग पर स्थित है, जो उफान पर आते ही मार्ग को बाधित कर देती है, जबकि यह मार्ग उत्तर - पश्चिमी मध्य प्रदेश से खासकर जावरा फोर लाइन पर राजस्थान राज्य के कोटा, बूंदी और जयपुर आदि बड़े शहरों की ओर जाने वाले वाहनों के लिए सुगम मार्ग है।

ऐसे में इस मार्ग पर बड़ी संख्या में वाहनों की आवाजाही लगी रहती है। बरसात के मौसम में जैसे ही इस पर नदी में बाढ़ आती है यह घंटों वाहनों को रोके रखती है।

शनिवार शाम मौसम में अचानक हुए बदलाव के बाद हुई बारिश से ताल नदी मध्य रात्रि करीब 2 बजे बाद उफान पर आई और नीमच - सिंगोली मार्ग अवरुद्ध हो गया।

ऐसे में दोनों और वाहनों की लंबी कतार लग गई है, और सोमवार सुबह तक जाम लगा रहा। वहीं पहली बार लेट तक हो रही बारिश से जमीन में पानी का लेवल अच्छा हो गया है और पानी की कमी न होने से आगामी फसलों में इस बार अच्छी पैदावार के संकेत भी हो रहे हैं आर्थिक मंदी से भी निजात मिल सकेगी कुल मिलाकर कल हुई बारिश से किसानों में खुशी की लहर है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

शीतलाष्टमी की पूजा आज देर रात से, रंगोत्सव (festival of colors) कल लेकिन फैली है यह अफवाह ...!

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज