कच्ची बस्तियों का पुन: सर्वे कराने की मांग

 

भीलवाड़ा (हलचल/सम्‍पत माली)। भीलवाड़ा कच्ची बस्ती विकास मंच ने भीलवाड़ा शहर की कच्ची बस्तियों का पुन: सर्वे कराने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।
जिलाध्यक्ष गोवर्धन सिंह कटार के नेतृत्व में कच्ची बस्ती के लोगों ने दिए ज्ञापन में बताया कि भीलवाड़ा शहर की विभिन्न कच्ची बस्तियों का एक बार पुन: सर्वे किया जावें। इन बस्तियों में सैंकड़ों परिवार पट्टे से वंचित है। शहर में सर्वे नहीं होने के कारण प्रशासन शहरों के संग अभियान में कच्ची बस्तियों के लोगों को पट्टे नहीं मिल रहे है। उन्होंने मांग की है कि भीलवाड़ा शहर की हिना क्रेशर कच्ची बस्ती, कीर खेड़ा, कावा खेड़ा, मजिस्ट्रेट कॉलोनी, भट्टा कच्ची बस्ती, बालाजी का खेड़ा, गायत्री नगर, बाबा धाम के सामने श्याम नगर कच्ची बस्ती, सांवरिया कच्ची बस्ती, पुर में फकीर कच्ची बस्ती व राधेनगर कच्ची बस्ती का पुन: सर्वे किया जावें एवं भौतिक सत्यापन करवाया जाये ताकि गरीब, मजदूर वंचित परिवारों को पट्टा मिल सके। 

इस मौके पर भीलवाड़ा कच्ची बस्ती विकास मंच के उपाध्यक्ष कल्याणमल बेरवा, मनोहर लाल जी भाट ,महामंत्री घनश्याम सिंधीवाल, वार्ड 66 के पार्षद प्रकाश भील , शहर मंत्री आशुतोष जोशी ,गजराज जी शर्मा ,जिला मंत्री सांवरलाल रेगर, मोहन लाल तेली ,अनवर खान, जाकिर मोहम्मद ,दुर्गा सिंह,घनश्याम जी बेरवा , अमर लाल ,अशोक तिवारी ,अहिरवार ,शंकरलाल ,दमामी ,सीतादेवी सालवी सैकड़ों कच्ची बस्ती के लोग उपस्थित थे।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक