पटवारि‍यों व तहसीलदार का धरना-अनशन शुरू, कैंपों में राजस्व काम ठप

 

भीलवाड़ा । अपनी मांगों को लेकर पटवारी से लेकर तहसीलदार स्तर तक के सभी राजस्व अधिकारी-कर्मचारी सोमवार से सामूहिक अवकाश पर चले गए हैं। उन्होंने उपखंड कार्यालयों के बाहर धरना व क्रमिक अनशन भी शुरू कर दिया है। इस वजह से राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे प्रशासन गांवों के संग व शहरों के संग अभियान पर असर पड़ा है। गांवों में कैंपों में तो राजस्व संबंधी सभी कार्य ठप हो गए हैं। राजस्थान राजस्व सेवा परिषद के बैनर तले पटवारी, भू-अभिलेख निरीक्षक (गिरदावर) तथा तहसीलदार संघ आंदोलन कर रहे हैं। अब तक वे कार्य बहिष्कार कर रहे थे। आज से ही उन्होंने मांगें नहीं माने जाने तक सामूहिक अवकाश ले लिया। प्रदेश भर में सभी उपखंड मुख्‍यालयों पर धरना दिया जा रहा है।
 राजस्थान पटवार संघ जिलाध्यक्ष सौमित्र दाधीच ने बताया कि भीलवाड़ा में उनके साथ ही तहसीलदार कार्यालय के बाहर धरने पर तहसीलदार डॉ. लालाराम यादव, नायब तहसीलदार भीलवाड़ा देवचंद्र, कानूनगो संघ के जिला महामंत्री अरुण कुमार तिवारी सहित समस्त गिरदावर व पटवारी बैठे। गिरदावर गोपाल लाल, भैरूलाल सुथार, मदनलाल बलाई, जमनालाल रैगर, राजेश जेठानिया, पटवारी राकेश कुमार कोली, सत्यनारायण विश्नोई, विनोद कुमार, दीपक जीनगर, सत्यनारायण प्रजापति, अशोक विश्नोई, महावीर सिंह राठौड़, गोरंती बाई मीणा, अलका हींगड़, देवकरण टांक, अभिषेक आदि धरने पर बैठे।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !