सांवलिया सेठ ने दिए भक्तों को घर-घर दर्शन, 9 घंटे तक निकली बेवाण यात्रा

 


भीलवाड़ा । नौगांवा सांवलिया सेठ मंदिर में पाटोत्सव के तहत सोमवार को पुर से गाजे बाजे व ढोल नगाड़ों के साथ भव्य बेवाण यात्रा निकाली गई।  आयोजन से जुड़े अनिल गहलोत व राकेश खोईवाल ने बताया कि  उपनगर पुर के चुंगी नाका से अलसुबह गाजो बाजो व ढोल नगाड़ा के साथ बड़ा मंदिर भजन मंडली, चारभुजा महिला मंडल, सांवलिया भजन मंडली के नाच गाने के बीच खुली जीप में चांदी के बेवाण में फूल मालाओं से सजे ठाकुर जी को विराजित कर भ्रमण कराया गया। सहयोगी जगदीश नवाल ने बताया कि शोभायात्रा में पूरे रास्ते ओम नमो भगवते वासुदेवाय, सांवरिया सेठ की जय, चारभुजा नाथ के जयकारे लगाते हुए भक्तजन पुष्प वर्षा करते हुए आगे बढ़ रहे थे। पूरे मार्ग में सांवरिया सेठ की अगवानी के लिए सड़कों पर एक तरह से फुल बिछ गए। 

इन संतों का मिला सानिध्य व आशीर्वाद

 शोभायात्रा में रीको पंचमुखी हनुमान मंदिर के महंत लाल बाबा, समोडी के संत मुरारी दास, सन्त शिरोमणि संतदास, सन्त रामदास  का आशीर्वाद प्राप्त हुआ। सभी संत जीप में सवार थे।

इन मार्गो से निकली शोभायात्रा, बनारस की तर्ज पर हुई महाआरती

 रथयात्रा उपनगर पुर के चुंगी नाका से प्रारंभ होकर तेलियो की बाड़ी, मंडी के हनुमान, पारीक मोहल्ला, आवरिया मोहल्ला, भारद्वाज मोहल्ला, जगपुरा, हरिजन मोहल्ला, बड़ा मंदिर, शीतला माता मंदिर, अस्पताल रोड होते हुए नौगांवा पहुंची। वहां हजारों लोगों की मौजूदगी में भगवान की  बनारस की तर्ज पर महाआरती हुई। 

करीब 9 घंटे तक निकली यात्रा,  मंदिरों के बाहर हुई आरती

यात्रा करीब 9 घंटे की रही जिसमें जगह जगह भगवान की आरती उतारी गई। मुख्य रूप से लक्ष्मी नारायण मंदिर, मंडी के हनुमान जी, चारभुजानाथ दर्जियों का मंदिर, शीतला माता मंदिर, भारद्वाज मोहल्ला आदि में आरती उतारी गई। श्रद्धालुओं को केले, एप्पल , चपड़े, ड्राई फ्रूट आदि का प्रसाद वितरित किया गया।

यात्रा का जगह-जगह सर्व समाज ने किया स्वागत, पूरे रास्ते हुई फूलों की वर्षा

 नगर संघचालक गोपी बैरवा ने बताया कि यात्रा का सर्व हिंदू समाज तेली समाज, बैरवा समाज, पारीक समाज, हरिजन समाज, माहेश्वरी समाज, दर्जी समाज, छीपा समाज, कोली समाज, विश्नोई समाज की ओर से स्वागत किया गया एवं अपने घर सांवरिया सेठ के आने पर आरती उतारी गई। पूरे रास्ते फूलों की वर्षा होती रही। रास्ते में भक्तजनों को प्रसाद वितरित किया गया और सांवलिया सेठ के लैमिनेटेड सुंदर चित्र वितरित किए गए।  पुर एवं नौगांवा में उत्साह का माहौल रहा।  कार्यक्रम में सर्व हिंदू समाज के लोग शामिल हुए। 

इन संगठनों व कार्यकर्ताओं का रहा सहयोग

कार्यक्रम में विशेष रुप से  सांवलिया सेठ सेवा मण्डल, कोली युवा संगठन, वीर तेजाजी समिति, राकेश खोईवाल प्रदीप पलोड, चंद्रप्रकाश पलोड, ओम टेलर, श्रवण कुमार सेन, प्रेम बेरवा, सत्यनारायण सेन, किशन जाड़ोलिया, दीपक विश्नोई, कुलदीप विश्नोई, रवि बिश्नोई, मुकेश बैरवा, सुरेश विश्नोई, दीपक भारद्वाज आदि का सहयोग रहा। ठाकुर जी के श्रृंगारित  2500 पोस्टर वितरित किए गए।  चारभुजा नाथ महिला मंडल व बैरवा महिला मंडल ने भजन पेश कर सहयोग रहा। 

सुबह हुआ दुग्धाभिषेक एवं हवन

इससे पूर्व सुबह 5 बजे दुग्धाभिषेक व 7 बजे हवन हुआ। इसमें भंवरलाल दरगढ़, मुरलीधर तोतला, गिरिराज काबरा, मदनलाल धाकड़ सभी सपत्नीक बैठे। पुजारी दीपक पाराशर का विशेष सहयोग रहा। बिश्नोई महिला मंडल की भी मौजूदगी रही। पाटोत्सव को लेकर मंदिर को वृंदावन के कारीगरों द्वारा फूलों से सजाया गया।  

पुलिस प्रशासन ने संभाली सुरक्षा व्यवस्था की कमा

विशाल आयोजन को लेकर पूरे रास्ते पुलिसकर्मियों ने सुरक्षा व्यवस्था संभाली। आयोजन समिति ने सभी सहयोगियों का आभार व्यक्त किया।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना