गणेश चतुर्थी को लेकर सजी प्रतिमाएं, खरीददारों का इंतजार

 


भीलवाड़ा (हलचल)। कोरोना संक्रमण के चलते भीलवाड़ा में गणेश महोत्सव पर्व नहीं मनाया जाएगा लेकिन घर-घर गणपति स्थापना होगी। इसे लेकर गणपति की प्रतिमाएं सज चुकी है और शहर के विभिन्न मार्गों पर अलग-अलग आकार में मूर्तियां लोगों को आकषित कर रही है।
भीलवाड़ा में वर्षों से गणेश महोत्सव धूमधाम के साथ मनाया जाता है और 50 से ज्यादा विभिन्न मूर्तियां शहर के चौराहों तिरहों पर स्थापित होती है और 11 दिन तक डांडियों की धूम रहती है। विभिन्न प्रतियोगिताएं पांडालों में आयोजित की जाती है लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते गणेश महोत्सव पर ग्रहण लग गय है। पिछले वर्ष भी यह समारोह नहीं हो पाया था और इस साल भी यह समारोह स्थगित किया गया है। लेकिन प्रथम पूजनीय गणेश जी की स्थापना घर-घर में होगी। इसे लेकर पुर रोड, चित्तौड़ मार्ग आदि पर गणेश जी की प्रतिमाएं बिक्री के लिए सज चुकी है। विभिन्न रंगों और आकार में प्रतिमाएं इन मार्गों से निकलने वाले लोगों को आकर्षित कर रही है। गणेश चतुर्थी का पर्व चार दिन बाद मनाया जाएगा लेकिन इस बार मूर्तियां खरीदने के प्रति लोगों में ज्यादा उत्साह नजर नहीं आ रहा है। पुर रोड पर एक मूर्ति विक्रेता का कहना है कि पहले की तरह इस बार खरीददारी नहीं है। लोगों में कोरोना का डर अब भी सता रहा है। 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक