मंत्रिमंडल विस्तार: मोदी वाला मैसेज देंगे योगी? एक ब्राह्मण और बाकी OBC या दलित

 

योगी मंत्रिमंडल कk विस्तार आज शाम होने जा रहा है। अगले छह महीने में यूपी में विधानसभा चुनाव होने हैं। कहा जा रहा है कि सात मंत्रियों को शपथ दिलाई जाएगी। अभी तक जो नाम सामने आ रहे हैं, उन्हें देखकर साफ लग रहा है कि जो सन्देश केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार में पीएम मोदी ने दिया था, वही सन्देश योगी भी देने जा रहे हैं। सामाजिक संतुलन यानी जातीय गणित को बैठाने की कोशिश होने जा रही है। 

 

मोदी मंत्रिमंडल विस्तार में यूपी से सात लोगों को शामिल किया गया था। महाराजगंज के सांसद पंकज चौधरी, अपना दल की अनुप्रिया पटेल, आगरा से सांसद एसपी बघेल, पांच बार सांसद रहे भानु प्रताप वर्मा, मोहनलालगंज सांसद कौशल किशोर, राज्यसभा सांसद बीएल वर्मा और लखीमपुर खीरी से सांसद अजय कुमार मिश्रा को मंत्री बनाया गया था।इसमें एक ब्राह्मण और बाकि छह ओबीसी या दलित समाज से थे। ओबीसी और दलित चेहरों में भी गैर-यादव और गैर-जाटव को शामिल किया गया था।  पंकज चौधरी और अनुप्रिया पटेल ओबीसी कुर्मी समाज से थे। कौशल किशोर पासी समाज से थे। जाटव के बाद उत्तर प्रदेश में पासी समाज का बड़ा वोट बैंक है। बीएल वर्मा लोध (पिछड़ी जाति) समाज से आते हैं और माना जाता है कि लोध समुदाय पर उनका अच्छा असर है। पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह भी लोध समाज से हैं. भानु प्रताप वर्मा दलित हैं।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !