वायदा बाजार में सस्ता हुआ सोना, चांदी की कीमत भी घटी, जानिए क्या रह गए हैं भाव

 

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। सोने एवं चांदी की वायदा कीमतों में गिरावट देखने को मिली। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर दिसंबर, 2021 में डिलिवरी वाले सोने का भाव 22 रुपये यानी 0.05 फीसद की गिरावट के साथ 46,484 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेंड कर रहा था। इससे पिछले सत्र में दिसंबर, 2021 कॉन्ट्रैक्ट वाले सोने का रेट 46,506 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा था। फरवरी, 2022 में डिलिवरी वाले सोने का रेट 43 रुपये यानी 0.09 फीसद की गिरावट के साथ 46,671 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेंड कर रहा था। इससे पिछले सत्र में फरवरी, 2022 में डिलिवरी वाले सोने का भाव 46,714 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा था।

चांदी की वायदा कीमत

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर दिसंबर, 2021 में डिलिवरी वाली चांदी की कीमत पांच रुपये यानी 0.01 फीसद की गिरावट के साथ 60,545 रुपये प्रति किलोग्राम पर ट्रेंड कर रही थी। इससे पिछले सत्र में दिसंबर कॉन्ट्रैक्ट वाली चांदी की कीमत 60,550 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थी। मार्च, 2022 में डिलिवरी वाली चांदी की कीमत 27 रुपये यानी यानी 0.04 फीसद की गिरावट के साथ 61,000 रुपये प्रति किलोग्राम पर ट्रेंड कर रही थी। इससे पिछले सत्र में मार्च, 2022 में डिलिवरी वाली चांदी की कीमत 61,027 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थी।

 

सोने का वैश्विक भाव 

ब्लूमबर्ग के मुताबिक कॉमेक्स पर दिसंबर, 2021 में डिलिवरी वाले सोने का भाव 8.40 डॉलर यानी 0.48 फीसद की गिरावट के साथ 1,750 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रहा था। इसी तरह स्पॉट मार्केट में सोने का रेट 9.44 डॉलर यानी 0.54 फीसद की गिरावट के साथ 1,751,54 डॉलर प्रति औंस पर चल रहा था।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चांदी की कीमत

  कॉमेक्स पर दिसंबर, 2021 में डिलिवरी वाली चांदी की कीमत 0.16 डॉलर यानी 0.69 फीसद की गिरावट के साथ 22.38 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड कर रही थी। इसी तरह हाजिर बाजार में चांदी की कीमत 0.13 डॉलर यानी 0.57 फीसद की गिरावट के साथ 22.40 डॉलर प्रति औंस पर चल रही थी।

 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक