हलचल की खबर से हुई अज्ञात शव की पहचान, पश्चिम बंगाल का है युवक, फोन पर मां से बहस करते हुये निकला था

 


 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। अजमेर हाइवे पर माधवनगर के नजदीक एक दस माला बिल्डिंग के पीछे गुरुवार की रात मिले अज्ञात शव की पहचान कर ली गई। शव की पहचान भीलवाड़ा हलचल न्यूज एप्प में प्रकाशित समाचार देखकर उसके साथियों ने की। साथियों ने पुलिस को बताया कि युवक पश्चिम बंगाल का है जो अभी यहां गहने बनाने का काम करता था। कल मां का फोन आने पर बहस करता हुआ दुकान से निकला था। आशंका है कि इसके बाद युवक ने इस दस माला बिल्डिंग से छलांग लगाकर जान दे दी।   
मांडल चौकी प्रभारी चिरागअली कायमखानी ने बीएचएन को बताया कि  माधवनगर (आरजिया) के पास एक दस माले की निर्माणाधीन बिल्डिंग के पीछे गुरुवार की रात  एक लड़के का शव पड़ा मिला। शव औंधे मुहं था। बड़ला (रूपाहेली ) निवासी व बिल्डिंग के चौकीदार नरपत सिंह पुत्र रायसिंह राजपूत ने इसकी सूचना पीसीआर को दी। इसके बाद मांडल पुलिस मौके पर पहुंची थी।  डीएसपी मांडल सुरेंद्र कुमार व सीआई विनोदकुमार मीणा ने भी मौका देखा।  जिला मुख्यालय से एमओबी टीम भी पहुंचकर साक्ष्य जुटाये।  19-20 साल के इस लड़के के दोनों पैर टूटे हुये थे। ऐसे में पुलिस को आशंका जताई थी कि यह युवक इसी दस माला बिल्डिंग से नीचे पैरों के बल गिरा । पुलिस ने शव को मांडल अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवाया था। 
उधर, इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी मृतक के फोटो के साथ भीलवाड़ा हलचल न्यूज एप्प ने दस माला बिल्डिंग के पीछे मिली अज्ञात युवक की लाश,  फैली सनसनी, टूटे हुये हैं दोनों पैर, हादसा या हत्या, जांच में जुटी पुलिस- शीर्षक से समाचार प्रसारित की थी। 
इस समाचार का स्क्रिन शॉट मृतक के साथ ही काम करने वाले नारायण को उसके परिचित ने भेजा था। नारायण ने ठेकेदार सिराज को इसकी जानकारी दी। बाद में ये लोग मांडल पहुंचे, जहां चौकी प्रभारी कायमखानी ने इन लोगों को शव दिखाया और मामले की जानका दी। इस पर सिराज ने मृतक की पहचान अपने कारीगर पश्चिम बंगाल के रत्ननेश्वरवाटी (घाटाल) मेदलीपुर निवासी प्रीतम संत्रा 21 पुत्र समर संत्रा के रुप में पहचान कर ली। मृतक के मौसा व मौसेरे भाई को पुलिस ने सूचना दी है, जो देवली से मांडल के लिए रवाना हो गये हैं। उनके आने पर शव का पोस्टमार्टम करवाया जायेगा।  

सिराज ने बोला मां का फोन आया था, बात करते हुये...
सिराज ने पुलिस को बताया कि वह भीलवाड़ा के मंगला चौक में व्यापारियों से सोना लेता है और इस सोने के गहने बनाकर उन्हें देता है। उसके साथ प्रीतम संत्रा भी काम करता था। कल दोपहर में प्रीतम के पास उसकी मां की कॉल आई थी। इसके बाद मां-बेटे फोन पर बहस कर रहे थे, जो अक्सर उनके बीच हुआ करती थी। प्रीतम बहस करता हुआ वहां से निकल गया था, जो लौटकर नहीं आया था। 

मां ने किया कॉल, कमरे पर तलाश की, नहीं मिला
प्रीतम से बहस के बाद उसकी मां ने उसके साथी को फोन कर उसकी तलाश करने के लिए कहा तो वह कमरे पर गया, जहां उसके कपड़े व अन्य सामान मिल गये, लेकिन प्रीतम नहंी मिला। इसके  बाद से उसकी तलाश की जा रही थी। 

सिराज का खराब हो गया था मोबाइल, प्रीतम के  मोबाइल में लगी थी सिम
सिराज ने पुलिस को बताया कि उसका फोन खराब हो गया था। इसके चलते उसने अपने मोबाइल की सिम प्रीतम के फोन में लगा दी थी। कार्यस्थल से निकला प्रीतम सांगानेरी गेट क्षेत्र में टॉयलेट पर पहुंचा, जहां उसने मोबाइल से अपनी सिम निकाल ली और मोबाइल वहीं दीवार पर छोड़ दिया। यह मोबाइल वहां एक दुकानदार को मिला, उसने लॉस्ट डायल नंबर पर कॉल किया, जो प्रीतम के पिता का नंबर था। उसके पिता ने दुकानदार को सिराज का पता बताया। इसके बाद दुकानदार ने मंगला चौक जाकर यह फोन सिराज को दिया। 

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

VIDEO आसींद में युवक से मारपीट, तोड़फोड़, आगजनी का प्रयास, बाजार बंद, दो के खिलाफ रेप का मामला दर्ज