सट्टा कारोबारी की गोली मारकर हत्या, पहले भी हो चुका था अपहरण

 


 

अलवर शहर में राखी कारोबारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। कारोबारी गंभीर हालत में सड़क पर पड़े मिले थे। उन्हें इलाज के लिए राजीव गांधी अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
मीडिया रिपोर्टस के अनुसार पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर अलवर के राजीव गांधी सामान्य अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है। एसपी तेजस्विनी गौतम ने बताया कि दिन में कारोबारी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। मामले की जांच के लिए पुलिस की तीन टीमें बनाई गई है। बताया जा रहा है कि कारोबारी का कई राज्यों में सट्टे और अलवर में राखी का कारोबार था


मृतक के बेटे अनिल ने बताया कि कारोबारी सुबह अपने घर से दुकान के लिए निकले थे लेकिन वह दुकान नहीं पहुंचे। जब वह घर भी नहीं लौट कर आए तो इस पर परिजनों ने ने शाम तक घर आने की बात कही थी। कुछ देर बाद परिजनों फोन किया। जिसपर घनश्याम सैनी ने शाम को आने की बात कही पर वो नहीं पहुंचे। परिजनों ने फिर से फोन पर संपर्क किया लेकिन कारोबारी ने फोन नहीं उठाया। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस ने मोबाइल की मदद से घनश्याम सैनी की लोकेशन ट्रेस की। उनकी लोकेशन तिजारा के नौरंगाबाद गांव में मिली। इस पर तिजारा पुलिस से संपर्क करके परिजनों को तिजारा भेजा गया। लोगों का कहना है कि मृतक का कई राज्यों में सट्टे का कारोबार था। पहले भी एक बार इनका अपहरण हो चुका है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना