रोकडिय़ा गणेश मंदिर में 1 हजार 111 कन्याओं का पूजन व भोजन आज

 


भीलवाड़ा । श्री शिव बालाजी एवं रोकडिय़ा गणेश मन्दिर सेवा समिति की ओर से संजय कॉलोनी स्थित रोकडिय़ा गणेश मंदिर में नवरात्रा के समापन पर 5 अक्टूबर को 1 हजार 111 कन्याओं का पूजन कर उन्हें भोजन कराया जाएगा। समिति के अध्यक्ष प्रेमप्रकाश शाह ने बताया की श्रद्धा ही मानव की मूल सम्पति है। सुख चाहो तो अंशदान करो, सुख चाहो तो सुख की निन्दे से सोया करो। जहां श्रद्धा है वहा भक्तों द्वारा अपनी माँ जगत जननी के सम्मान में कन्या का भोजन होता है। जिस  घर में कन्या उसका धर के पिता का सबसे बडा कन्या दान हर पिता को नहीं मिलता है वह भाग्यशाली जो पिता महादान का उसे प्रभु द्वारा यह आशीर्वाद प्राप्त हुवा।  मानव तो दान देने वाले अधिक कर्म, सेवा, धार्मिक, रूची वाले कम दिखाने वाले अधिक है।  कन्या महाभोज बडा दुसरी बार प्रत्येक कन्या रूपको चरण की पुजा, तिल्क, मोली वाधकर शुभ अवसर पर श्रीफल व पांच रूपया माँ के रूप को पधारने सम्मान का अनोखा दृश्य सेवा का मिलेगा।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना