अब 56 साल का साड़ी व्यापारी हुआ हनिट्रैप का शिकार, बकाया राशि चुकता करने के बहाने बुलाया, मारपीट कर उतरवाये कपड़े, बनाया वीडियो, पांच लाख की डिमांड, रेप केस में फंसाने की दी धमकी

 


 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। शहर में हनिट्रैप का एक और मामला सामने आया है। पुलिस विभाग के एक हैड कांस्टेबल के बाद अब आजाद चौक का एक साड़ी व्यापारी हनिट्रैप का श्किार हुआ है। दरअसल, इस व्यापारी को महिला ने फोन कर बकाया राशि ले जाने के बहाने बुलाने के बाद बंधक बनाकर अपनी सहयोगी महिलाओं व एक व्यक्ति के सहयोग से न केवल पीटा, बल्कि उसके कपड़े उतरवा कर अश्लील वीडियो बना लिये और 5 लाख रुपये की डिमांड कर दी। बाद में समझौते के नाम पर व्यापारी से दो लाख रुपये भी वसूल लिये। इसके बाद भी इनकी धमकियों का सिलसिला जारी रहा तो व्यापारी ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत दी। इस पर कोतवाली पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली। 
पुलिस सूत्रों के अनुसार, आजाद चौक निवासी 56 वर्षीय साड़ी व्यापारी ने रिपोर्ट में बताया कि उसकी गांव में जमीन है, जिसे पुष्पा व उसके पति ने सिजारे ले रखी थी। यह पति-पत्नी बतौर सिजारी रहते हुये कई बार परिवादी से पैसे उधार ले गये। कई बार चांदी के जेवरात भी उघार ले जाते। उनकी उधारी भी परिवादी से दिलवाते थे और रुपये वापस चुका देने का आश्वासन देते। लेकिन रुपये अदा नहीं किये। 2009 में इनका सिजारा छुड़वा दिया और अन्य को सिजारा दे दिया।   2014 में  यह जमीन विक्रय कर दी। जमीन विक्रय करने के बाद परिवादी का गांव  जाने का काम नहीं पड़ा।  जमीन विक्रय करने के बाद भी पुष्पा  दुकान से साडियां उधार ले जाती व कहती कि अगली बार आउंगी तब रुपये दे दुंगी एवं अभी 5-6 माह पूर्व पुष्पा अपने साथ जमनी उर्फ कमला, भैरू गुर्जर व लीला  को भी 2-3  बार दुकान पर लेकर आई व कुछ रुपये अदा कर साडियां व मेचिंग ले गई।  अभी 4 माह पूर्व ही पुष्पा,  जमनी उर्फ  कमला, लीला  दुकान पर आई । साडियां व मेचिंग करीब 5-6 हजार रु की उधार ले गई । कहा कि  कुछ दिनों में रूपये दे देंगे। इस प्रकार रूपये वापस अदा करने का बहाना बनाकर सांडिया ले गई व साडी ले जाने के बाद 22 जून 22 को परिवादी दुकान पर बैठा था तब मोबाइल पर फोन आया व कहा कि मैं पुष्पा बोल रही हूँ एवं में कुछ दिनों के लिए बाहर जा रही हूं एवं मेरे पास साधन भी नहीं हैं । इसलिए आप  चौराहे पर पानी की टंकी हैं वहां पर आकर आपके रुपये ले जाओ । 
परिवादी पानी की टंकी के पास गया । वहां पर लीला व जमनी उर्फ  कमला दोनो आई और परिवादी से कहा कि  पुष्पा से रूपये ले लो वह बाहर जा रही हैं ।  फिर वो दोनो परिवादी को उनके घर तक ले गई । वहां पर पुष्पा, जमनी उर्फ  कमला, लीला व भैरू गुर्जर चारो ही थे । परिवादी ने पुष्पा  व  इन दोनो औरतों से उधारी के रूपये मांगे तो कहा कि देते हैं । आप चाय पी लो । यह कहते हुये उसे कमरे में बैठाया एवं मकान का अन्दर से चारों ने गेट बन्द कर दिया । 
भैेंरू गुर्जर व पुष्पा आचार्य ने  लात घूंसों, लकडिय़ों से मारा व  जेब से 700-800 रूपये,  मोबाईल भी छिन लिया । जेब में  कागजों के साथ एक खाली चेक ओबीसी का था उसे भी  छिन लिया। मारपीट कर खाली चेक पर हस्ताक्षर करने के लिए दबाव बनाया। जब परिवादी ने हस्ताक्षर नहीं किये तो उसे पकड़ा और कपड़े खोलकर घर से रुपये मंगवाने के लिए दबाव डाला। परिवादी की पत्नी को आरोपितों ने फोन कर परिवादी की रिहाई के बदले 5 लाख रुपये की मांग की। परिवादी ने अपने पास इतने रुपये नहीं होने की बात कही तो एक महिला ने कपड़े उतार दिये और पुष्पा, लीला व भैंरू ने उस महिला के साथ परिवादी को धकेल कर फोटा खींचे और वीडियो बना लिया। चेक पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा। ऐसा नहीं करने पर फोटो-वीडियो इंटरनेट पर डाल देंगे। चारों ने परिवादी से मारपीट कर खाली चैक पर हस्ताक्षर करवा लिये। शाम करीब 6 बजे के लगभग परिवादी को वहां से निकाला व धमकी दी कि अब  5,00,000 रूपये की व्यवस्था कर देना, वरना तेरे बनाये हुए विडियो को हम इन्टरनेट व अन्य लोगों के मोबाईल पर डाल देंगे। उसके 4 दिन बाद परिवादी की उपरोक्त फोटो को  पत्नी के मोबाईल नम्बर पर डाले । इसके बाद ये आरोपित घर आये व रुपयों की मांग कर धमकाया। साथ ही रुपये नहीं देने पर इन महिलाओं ने छेड़छाड़ व ब्लात्कार का केस दर्ज करवाने की धमकी दी। परिवादी ने बदनामी के डर से  दो लाख रूपये 2 अगस्त 2022 को देकर राजीनामा कर लिया।  परिवादी ने मशक्कत के बाद आरोपितों से अपना चेक व मोबाइल हांसिल किया।  राजीनामा करने के 4-5 दिन बाद से ही फिर चारों ही परिवादी की दुकान पर आकर उसे व  पत्नी को धमकी दी कि 5,00,000/- रुपये दे दो वरना तुम्हारा विडियो वायरल कर देंगे। अन्य औरतों से भी झुठा बलात्कार का मुकदमा लगाकर तुम्हें बर्बाद कर देंगे। परिवादी को रिपोर्ट करने पर विडियो के अनुसार  कई झूठे बलात्कार के मुकदमे लगाकर जेल में भिजवा देने की धमकी देकर ब्लैकमेल करते आ रहे हैं।  मामले की जांच एएसआई जी. सिंह कर रहे हैं। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना