वीर योद्धा राणा पूंजा भील की जयंती के अवसर पर विशाल मोटरसाइकिल वाहन रैली निकाली

 


करेड़ा  ‌। राजस्थान भील समाज विकास समिति तहसील शाखा करेड़ा एवं आदिवासी भील महासेना करेड़ा के संयुक्त तत्वावधान में बुधवार को बागोर से रैली को जिला प्रमुख बरजी देवी भील ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया । रैली में जिला प्रमुख प्रतिनिधि लेहरु लाल भील, भेरू लाल भील भी साथ थे।बागोर से कालाजी करेड़ा तक वीर योद्धा राणा पूजा भील की जयंती के अवसर पर विशाल मोटरसाइकिल वाहन रैली बागोर से करेड़ा के मुख्य मार्गो से होते हुए काला जी स्थित शबरी माता मंदिर परिसर में पहुंची। जहां पर वीर योद्धा राणा पूंजा भील जयंती समारोह का आयोजन गोपी महाराज पुजारी के सानिध्य में किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राधेश्याम टांक सरपंच प्रतिनिधि एवं अध्यक्षता प्रभु लाल भील युवा अध्यक्ष ने की। विशिष्ट अतिथि सुरेश चंद्र मेघवंशी ,गहरी लाल भील सरपंच गोरख्या, सवाई सिंह, मुकेश कुमार भील, नारायण लाल भील, गोपीलाल भील युवा कार्यकर्ता बागोर, तेजवीर भील युवा अध्यक्ष सहाड़ा के आतिथ्य में आयोजित हुआ। समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि सरपंच प्रतिनिधि राधेश्याम टांक ने कहा कि पूजा सर्किल का निर्माण करवा कर अगले वर्ष अनावरण किया जाएगा। साथ ही शबरी माता मंदिर परिसर में भोजनशाला का निर्माण करवाने का आश्वासन दिया। समारोह को संबोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि सुरेश चंद्र मेघवंशी ने कहा कि समाज में हो रहे अन्याय अत्याचार के खिलाफ जागरूक होना पड़ेगा। साथ ही राज्य सरकार की योजनाओं का फायदा लेने की बात कही। कार्यक्रम में वक्ता मेंओं ने समाज में व्याप्त सामाजिक कुरीतियां जैसे मृत्यु भोज, बाल -विवाह नहीं करने,युवा संगठन को मजबूत बनाने, शिक्षा का प्रचार प्रसार अधिक से अधिक करने का आह्वान किया गया।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना