VIDEO बड़ी हरणी में हुई बैल पूजा, आतिशबाजी के बीच भड़काये बैल

 


भीलवाड़ा (हलचल)। जिले में परम्परागत बैल पूजा का कार्यक्रम बुधवार शाम को सम्पन्न हुआ। भीलवाड़ा में बड़ी हरणी, माली खेड़ा में भी बैल पूजा की गई । उसके बाद जमकर आतिशबाजी के बीच बैल भड़काये गये। 
कुछ सालों पहले तक शहर के साथ ही गांवों में बैल पूजा के कार्यक्रम को देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ता था लेकिन अब किसानों के पास नाम मात्र के बैल बचे है और बैलों की जगह ट्रेक्टरों ने ले ली है इसके चलते बैल नहीं बचे और अब कई यह कार्यक्रम लगभग बन्द ही हो गये है। पहले शहर में जवाहर नगर, पांसल, गांधीनगर में बैल पूजा के कार्यक्रम होते थे और इन्हें देखने के लिए लोग दूर-दूर से पहुंचते थे। बैलों की पूजा के बाद जमकर आतिशबाजी के बीच बैलों को भड़काया जाता था लेकिन शहर में अब माणिक्य नगर में ही पूजा परम्परा निभाने के लिए होती है और आज भी यह पूजा की गई। इसी तरह बड़ी हरणी में भी कुछ बैल बचे है जिनकी रीति रिवाज के साथ पूजना अर्चना कर आतिशबाजी के बीच भड़काया गया। इसके बाद भगवान चारभुजा नाथ को अन्नकूट का भोग लगा प्रसाद वितरीत किया गया। 
पांसल, आटूण, पालड़ी के साथ कई गांवों में  भी बैल पूजा की गई। वैसे तो जिले के कई गांवों में यह परम्परा निभाई जा रही है लेकिन अब औपचारिकता रह गई है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा