हर बीवी अपने पति से छिपाती हैं ये 2 राज, पति को कानों कान खबर तक नहीं होती है

 


पति पत्नी का रिश्ता भरोसे और पारदर्शिता की दीवार पर ही टिकता है। यही वजह है कि पति पत्नी एक दूसरे से सभी बातें खुलकर शेयर करते हैं। लेकिन हर बात शेयर की जाए ये जरूरी भी नहीं होता है। कई बार ऐसा भी होता है कि पत्नियां कुछ खास बातें पति से छिपाती हैं। वे इस बारे में पति को बताना सही नहीं समझती है। ऐसा नहीं है कि हर बार वह अपने निजी फायदे या किसी डर से ही पति से बातें छिपाती हैं। कुछ बातें ऐसी भी होती हैं जिन्हें छिपाने में पति, उनकी और बच्चों की भलाई होती है।

 

पत्नियों को चैटर बॉक्स भी कहा जाता है। कहते हैं कि महिलाओं के पेट में कोई भी बात टिकती नहीं है। यदि पड़ोसी उन्हें अपना कोई राज बताएं तो कुछ दिनों में वह राज पूरे मोहल्ले में फेमस हो जाता है। इसी तरह जब पति दिनभर ऑफिस में काम कर घर लौटता है तो पत्नियां उन्हें अपनी पूरी दिनचर्या सुनाने लगती है। वह अपने सतह घटी एक एक चीज सुना देती है। एक तरह से महिलाएं राज छिपाने में कमजोर होती हैं। हालांकि जब बात उनके काम की हो तो वे ऐसे राज दबाकर रखती हैं जिसके बारे में पति सपने में भी नहीं सोच सकता है।

 

ऐसे में आज हम आपको पत्नियों की दो ऐसी राज की बातें बताने जा रहे हैं जो वे अक्सर पति से छिपाती हैं। उनके मुंह से ये दो राज उगलवाना इतना आसान नहीं होता है। वे पति को ये राज सिर्फ तभी बताती हैं जब उन्हें इन्हें बताने की इच्छा होती है। यदि वे इन्हें न बताएं तो पति को उनके राज कई सालों तक पता नहीं चलते हैं। तो चलिए जानते हैं कि वे दो राज कौन से होते हैं।

ये 2 बातें पति से छिपाती है पत्नियां

saving money

1. बचाया या छिपाया हुआ पैसा: पत्नियों को मनी सेविंग की बड़ी अच्छी आदत होती है। वे अक्सर अपने पति से लिए पैसे बचाकर और छिपाकर रखती हैं। वहीं यदि महिला जॉब कर रही हो तो भी वह अपनी कमाई के कुछ पैसे सेव करना पसंद करती है। इन पैसों के बारे में वे पति को नहीं बताती है। वह यह पैसे अपनी किसी पसंद की चीज को खरीदने के लिए या बुरे समय के लिए बचाकर रखती हैं। कुछ महिलाएं इन पैसों को घर के किसी हिस्से जैसे किचन, बेडरूम में छिपकर रखती हैं तो कुछ बैंक में पति की जानकारी के बिना इन्हें सेव करती जाती हैं।

wife husband secrets

2. पति को दुख देने वाली समस्या: पति के ऊपर काम और घर की जिम्मेदारियों को लेकर वैसे ही बड़ा टेंशन रहता है। ऐसे में एक केयरिंग पत्नी अपने पति को निजी जीवन से जुड़ी समस्याएं नहीं बताती है। वह कई बार यह दुख खुद ही सहन कर लेती हैं। वे नहीं चाहती कि पति उनके दुख के बारे में सोचकर और टेंशन में आ जाए। ये समस्याएं बच्चों, घर परिवार से जुड़े रिश्तों या फिर एक्स प्रेमी या पास्ट की रिलेशनशिप से संबंधित हो सकती है। महिलाएं अक्सर अपने पति को ऐसी समस्याओं से दूर ही रखना पसंद करती है।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक