अन्तर्राज्यीय चोरी गैंग का खुलासा, उत्तर प्रदेश के मुख्य आरोपी सहित 3 गिरफ्तार

 


भीलवाड़ा (हलचल)। भीलवाड़ा में हुई आधा दर्जन चोरी की वारदातों में खुलासा करते हुए सुभाषनगर थाना पुलिस ने उत्तर प्रदेश के एक गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया। जिसमें सुभाषनगर थाना प्रभारी पुष्पा कसौटिया, सहायक उप निरीक्षक कालूराम, कांस्टेबल प्रदीप कुमार, लोकेश कुमार, भूपेन्द्र सिंह और अभेष को शामिल किया गया। 30 अगस्त को आरसी व्यास कॉलोनी निवासी कैलाश पोरवाल अपनी बेटी से मिलने मंदसौर गये थे और लौटकर आये तो मकान के ताले टूटे हुए थे और सोने चांदी के आभूषण नदारद मिले। गठित टीम ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गजेन्द्र सिंह जोधा और उप अधीक्षक रामचन्द्र के नेतृत्व में क्षेत्र के सीसीटीवी को खंगाले जिससे काफी साक्ष्य हांसिल हुए। इस पर पुलिस ने उत्तर प्रदेश के संभल जिला अन्तर्गत अकरौली थाना निवासी मुकन पिता नेतराम मौर्य व उसका भाई जितेन्द्र मौर्य व संजीव पिता रमेश ठाकुर को गिरफ्तार किया। पूछताछ में यह बात सामने आई कि यह अन्तर्राज्यीय चोर गिरोह अपने गांव अकरौली से दिल्ली रेलवे स्टेशन आते है वहां से जहां चोरी की वारदात को अंजाम देते है वहां तक ट्रेन में जाते है और रेलवे स्टेशन की आस पास की धर्मशाला में कमरा लेकर ठहरते है। बाद में चोरी की वारदात स्थल की रैकी करते है। जिस मकान पर ताला लगा होता है। उसमें वारदात को अंदाम देते है और ट्रेन से ही गांव लौट जाते है।
सीसीटीवी से मिले सूत्रों के बाद इन तीनों को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो भीलवाड़ा शहर में आधा दर्जन से अधिक चोरियों की वारदातों का खुलासा हुआ है। इन तीनों के खिलाफ उत्तर प्रदेश में चोरी, लूट,शराब के अलावा अन्य बीस मामले दर्ज है। राजस्थान में इन लोगों ने 16 वारदातों में शामिल होने की बात कबूली है। इनमें से एक जितेन्द्र मौर्य उत्तर प्रदेश का हिस्ट्रीशीटर अपराधी है। इन लोगों ने हरियाणा, दिल्ली,भीलवाड़ा, करौली, उदयपुर में वारदातों को अंजाम दिया है।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक