नमक का कम सेवन भी जान को खतरे में डाल सकता है, जानिए इसके नुकसान

 


 लाइफस्टाइल डेस्क। नमक के बिना खाने का स्वाद अधूरा है। खाने में संतुलित मात्रा में नमक का इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाता है, साथ ही सेहत के लिए भी उपयोगी है। डॉक्टर्स के मुताबिक बॉडी में नमक की एक संयमित मात्रा शरीर में हर समय बनी रहनी चाहिए। बॉडी में नमक की मात्रा कम या ज्यादा होने पर नुकसान भी हो सकता है। अक्सर हमने लोगों को सलाह देते हुए सुना है कि खाने में कम नमक का सेवन करें वरना ब्लड प्रेशर बढ़ जाएगा। यह सच है खाने में नमक का ज्यादा सेवन करने से बॉडी में सोडियम की मात्रा अधिक होने लगती है और ब्लड प्रेशर हाई होने लगता है। नमक में पाया जाने वाला मुख्य कंपोनेंट सोडियम है, सोडियम खून में इलेक्ट्रोलाइट की सांद्रता को कम करता है और प्यास को बढ़ाता है। ज्यादा नमक का सेवन जहां सेहत को नुकसान पहुंचाता है वहीं कम नमक का सेवन भी सेहत को कई तरह की परेशानियां दे सकता है। आइये जानते हैं कि कम नमक का सेवन किस तरह सेहत के लिए नुकसानदायक है।

नमक का कम सेवन ब्लड प्रेशर कम कर सकता है:

नमक ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है, शरीर में ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने के लिए सही मात्रा में सोडियम की जरूरत होती है, कम मात्रा में नमक का सेवन करने से बॉडी में सोडियम की कमी होती है। सोडियम की कमी से ब्लड प्रेशर कम होने लगता है। कम नमक का सेवन हार्ट अटैक, स्ट्रोक और दिल से संबंधित कई परेशानियां पैदा कर सकता है।

शुगर और दिल के रोग बढ़ने का खतरा हो सकता है:

बॉडी में कम मात्रा में नमक का सेवन करने से शरीर में इंसुलिन रेजिस्टेंस बढ़ने का खतरा बना रहता है। ऐसा होने की संभावना तब होती है जब शरीर में सेल्स, हार्मोन इंसुलिन के सिग्नल्स के प्रति रिस्पॉन्स करते हैं। इस वजह से ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है। जो टाइप 2 डायबिटीज और हृदय रोग की वजह बन सकती है।

शुगर के मरीज़ों के लिए खतरा:

शुगर के मरीज़ों के लिए नमक का कम सेवन दिल का दौरा पड़ने और स्ट्रोक का कारण बन सकता है। टाइप 1 डायबिटीज और टाइप 2 डायबिटीज के पेशेंट के लिए नमक का कम सेवन करना काफी खतरनाक हो सकता है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें। 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक