मशहुर गायक सुब्रहृमण्यम की पुण्यतिथि‍ पर दी श्रद्धांजलि‍

 

चित्तौडगढ । मशहुर गायक एस.पी.बाला सुब्रहृमण्यम की 25 सितम्बर प्रथम पुण्यतिथी होने से मीठाराम जी खेड़ा प्रतापनगर स्थित श्री शैलेमल्लिकार्जुनम् मन्दिर प्रांगण में मोहल्लेवासीयों ने 2 मिनट का मोन रख कर श्रद्वांजलि सादगीपूर्वक मनायी। महेश मेहता ने बताया कि मोहल्लेवासी प्रेमकुमार शर्मा, कमलाशंकर त्रिपाठी, बहादुर सिंह पंवार, राजकुमार गुर्जर, रमेशचन्द्र सेन, पुखराज बैरवा, देवीलाल भांबी, रमेश रामचन्दानी, रोशन बैरवा, राजाराम राव, रतनलाल धोबी, भैरूलाल रेगर, केशुराम भांबी आदि उपस्थित थे। एस.पी.बाला सुब्रहृमण्यम ने 16 भारतीय भाषाओं मे लगभग 40 हजार से ज्यादा गाने गाये है, उन्हें वर्ष 2001 में पùश्री और 2011 में पùभूषण जैसे सम्मानों सहित कई पुरूस्कार मिले। एस.पी.बाला सुब्रहृमण्यम की पहली हिन्दी फिल्म एक दूजे के लिए 1981 मे काम किया था, इस फिल्म के लिए उन्होने नेशनल फिल्म अवार्ड फॉर बेस्ट मेल प्ले बेक सिंगर मिला था, उनके कई यादगार गाने आज भी संगीत प्रेमियों के दिलो दिमाग पर छाए हुए है। जैसे आके तेरी बॉहों मे हर शाम लगे सिन्दूरी , देखा है पहली बार साजन की ऑखो मे प्यार अब जाके आया मेरे बेचेन दिल को करार , हम बने-तुम बने एक दुजे के लिए , मेरे रंग मे रंगने वाली परी हो या परियों की रानी, आदि गाने गाये।  

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !