अगले तीन दिनों तक दक्षिण, पश्चिम और उत्तर भारत में भारी बारिश का अलर्ट, जानें अपने इलाके का हाल

नई दिल्ली। देश में दक्षिण पश्चिम मानसून एकबार फिर सक्रिय हो गया है। इससे देश के कई राज्‍यों में भारी बारिश का दौर शुरू हो सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मानसून के पुन: सक्रिय होने से अगले तीन दिनों के दौरान दक्षिण, पश्चिम और उत्तर भारत के कई हिस्‍सों में भारी बारिश होने की आशंका है। वहीं मौसम का पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्‍काईमेट वेदर की रिपोर्ट के मुताबिक पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने चक्रवाती हवाओं के चलते अगले 24 घंटों के दौरान कम दबाव का क्षेत्र विकसित होगा जिससे मौसम में तब्‍दीली आएगी।

अगले तीन दिनों तक इन राज्‍यों में भारी बारिश

मौसम विभाग ने कहा कि अगले तीन दिनों के दौरान कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। हालां कि इसके बाद बारिश की तीव्रता में कमी आएगी। सात से नौ सितंबर के दौरान हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर पंजाब, जम्मू-कश्मीर और पूर्वी राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में भारी बारिश होने का अनुमान है।

महाराष्‍ट्र, छत्‍तीसगढ़ और गुजरात में भी बारिश संभव

मौसम विभाग की ओर से जारी आल इंडिया वेदर बुलेटिन में कहा गया है कि पांच से सात सितंबर तक दक्षिण ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, विदर्भ और दक्षिण छत्तीसगढ़ में भारी से बहुत भारी बारिश होने के आसार हैं। सात से नौ सितंबर तक उत्तरी मराठवाड़ा, उत्तर मध्य महाराष्ट्र, उत्तरी कोंकण और गुजरात क्षेत्र में भी बारिश होने की संभावना है।

कोंकण में जबर्दस्त बारिश का अनुमान

वहीं समाचार एजेंसी पीटीआइ ने मौसम विभाग के हवाले से बताया है कि सात और आठ सितंबर के दौरान उत्तर कोंकण में बहुत जबर्दस्त बारिश होने का अनुमान है। सात सितंबर को तेलंगाना और आठ सितंबर को महाराष्ट्र एवं गुजरात क्षेत्र में जबर्दस्त भारी बारिश होने की संभावना है।

असम में बाढ़ से 1.18 लाख से ज्यादा प्रभावित

मौजूदा वक्‍त में भारी बारिश के चलते देश के कई हिस्‍सों में बाढ़ की समस्‍या खड़ी हो गई है। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक असम में अब भी 1.18 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक बारपेटा, चिरांग, दरंग, धेमाजी, गोलपाड़ा, गोलाघाट, मोरीगांव और नगांव जिले में कम से कम 1,18,300 लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। गोलाघाट जिला बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है जहां लगभग 48,300 लोग इस संकट का सामना कर रहे हैं।

अगले 24 घंटे ऐसा रहेगा मौसम का मिजाज

वहीं स्‍काईमेट वेदर की रिपोर्ट के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश और दक्षिण ओडिशा के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ ही कहीं-कहीं भारी बारिश का पूर्वानुमान है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तटीय आंध्र प्रदेश में 24 घंटों के दौरान ऐसा ही मौसम देखा जा सकता है। यही नहीं पूर्वोत्तर भारत, उत्तर प्रदेश, बिहार, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, तमिलनाडु के कुछ हिस्‍सों में भी हल्की से मध्यम बारिश देखी जा सकती है। 

 

 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक