आयुर्वेद नर्सेज की भर्ती को लेकर आयुर्वेद यूनिवर्सिटी नहीं है गम्भीर-सैनी

 

भीलवाड़ा हलचल। आयुर्वेद विभागन्तर्गत प्रक्रियाधीन 550 आयुर्वेद नर्सेज भर्ती में  29 सितम्बर तक प्रोविजनल सूची जारी करने का आयुर्वेद निदेशक अजमेर द्वारा 29 जून 2021 के माध्यम से  राज्य सरकार से किया गया वादा आयुर्वेद यूनिवर्सिटी की असंवेदनशीलता के चलते फ़िलहाल पूर्ण होता नजर नहीं आ रहा है

अखिल राजस्थान राज्य आयुष नर्सेज महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष छीतर मल  सैनी ने आयुर्वेद यूनिवर्सिटी जोधपुर पर आयुर्वेद नर्सेज भर्ती के प्रति गम्भीर नहीं होने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में जब कोरोना की पहली लहर आई थी उस वक्त गहलोत सरकार ने आमजन के स्वास्थ्य के प्रति संवेदनशीलता दिखाते हुए आयुर्वेद विभाग में 550 आयुर्वेद नर्सेज की तथा 450 आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारियों की भर्ती को मंजूरी दी थी परंतु आयुर्वेद प्रशासन व  आयुर्वेद यूनिवर्सिटी की लचीली व ढुलमुल कार्यप्रणाली के चलते उक्त भर्ती 15 माह में भी पूर्ण नहीं की जा सकी जबकि कोरोना की प्रदेश में दूसरी लहर आने के बाद अब तीसरी लहर की भी आने की प्रबल संभावनाएं बनी हुई है  !

 

सैनी ने  अब उक्त भर्ती  में 14 सितम्बर से दस्तावेज करेक्शन शुरू करने की मांग दौहराते हुये कहा कि अगर सरकार व यूनिवर्सिटी प्रशासन चाहता तो आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारियों के साथ साथ आयुर्वेद नर्स/ कंपाउंडर की भर्ती को भी पूर्ण करवाया जा सकता था किंतु ऐसा नहीं किया गया जिसके चलते उक्त नर्सेज भर्ती में काफी विलंब हो रहा है !

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक