कड़ी जांच के बाद एंट्री, लड़कियों के गहने, चुनरी उतरवाई, सभी अभ्यर्थियों के हाथ के डोरे भी खुलवाए, राज्य में दिन भर नेट बंद

 

 

 

केंद्रों पर महिला अभ्यर्थियों के गहने, बालों के क्लच आदि उतरवाए गए, सभी अभ्यर्थियों से हाथ में बंधे डोरे व ब्रासलेट्स, घड़ी आदि भी उतरवाई गई

राजस्थान के इतिहास में प्रदेश की सबसे बड़ी राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (REET) शुरू हो गई है। कड़ी सुरक्षा के बीच सभी अभ्यर्थियों को एंट्री दी गई थी। परीक्षा को लेकर कई दिन से शासन-प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद है। शिक्षकों के 31 हजार पदों के लिए REET में देशभर के 25 लाख 35 हजार 542 अभ्यर्थी दो पारी में परीक्षा देंगे। इसमें प्रथम स्तर की परीक्षा में 12 लाख 67 हजार 983 परीक्षार्थी बैठेंगे, जबकि द्वितीय स्तर की परीक्षा में 12 लाख 67 हजार 539 परीक्षार्थियों के बैठ रहे हैं। दोनों परीक्षा में आवेदनों की संख्या 25 लाख है, इनमें 9 लाख अभ्यर्थी ऐसे हैं, जिन्होंने दोनों परीक्षाओं के लिए आवेदन किया है। कुल अभ्यर्थियों की संख्या 16 लाख है।

इसके लिए प्रदेशभर में 3 हजार 993 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इसमें सबसे ज्यादा 592 परीक्षा केंद्र राजधानी जयपुर में है। जहां ढाई लाख से ज्यादा अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। इनमें दूसरे लेवल की परीक्षा शुरू हो गई है। प्रदेशभर में REET के लिए सुबह 10 से दोपहर 12:30 बजे के बीच छठी से आठवीं कक्षा के लिए द्वितीय स्तर की परीक्षा होगी। दोपहर 2:30 से शाम 6 बजे तक पहली से पांचवी कक्षा के लिए प्रथम स्तर की परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान सरकार ने जहां छात्रों के भोजन से लेकर आने-जाने तक की फ्री व्यवस्था की है।

जयपुर के एक सेंटर पर प्रवेश पत्र जांच के बाद दी गई एंट्री।

जयपुर के एक सेंटर पर प्रवेश पत्र जांच के बाद दी गई एंट्री।

सेंटर्स पर भीड़, जांच के बाद एंट्री

सभी केंद्रों स्टूडेंट्स को एंट्री दे दी गई है। यहां नजदीकी थाने के पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है, जिन्होंने सभी को जांच के बाद ही प्रवेश दिया। वैसे सुबह 9:30 बजे तक ही एंट्री दी गई है, लेकिन केंद्र पर किसी भी कारण से देरी से पहुंचने वाले स्टूडेंट्स को भी एंट्री देने की कोशिश की जा रही है, ताकि सालों से मेहनत कर रहे स्टूडेंट्स को कुछ मिनटों की सजा नहीं मिले। इसके अलावा कई सेंटर्स के आसपास अभ्यर्थी और उनके परिजन के अलावा किसी को नहीं आने दिया गया है। सभी को दूर रखा जा रहा है। लेवल टू के एग्जाम के लिए जयपुर में प्रदेशभर के विभिन्न जिलों से भी अभ्यर्थी जयपुर पहुंचे हैं।

प्रदेशभर में सड़कों पर अभ्यर्थी

परीक्षा शुरू होने से पहले सुबह-सुबह से ही जयपुर सहित विभिन्न शहरों में बाहर से पहुंचने वाले अभ्यर्थियों पर नजर आ रहे हैं। कहीं लोकल ट्रांसपोर्ट का इंतजार करते तो कहीं पैदल चलते। जहां-जहां रहने की व्यवस्था की गई है, वहां भी सुबह-सुबह खासी हलचल रही। जल्दी उठकर अभ्यर्थी अपने सेंटर्स ओर रवाना हो गए।

9 जिले संवेदनशील, 100% केंद्रों पर CCTV से नजर
REET के दौरान धांधली और नकल रोकने के लिए प्रदेशभर में 30 हजार से ज्यादा CCTV कैमरे लगाए गए हैं। प्रदेश के बाड़मेर, सवाई माधोपुर, करौली, दौसा, नागौर, सीकर, भरतपुर, झुंझुनू, और जालौर के 100% परीक्षा केंद्रों पर CCTV कैमरे हैं, जबकि शेष बचे जिलों में अति संवेदनशील परीक्षा केंद्र पर CCTV कैमरों से निगरानी की जाएगी। इसके साथ ही चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस के जवान अभ्यर्थियों के साथ आम आदमी की की सुरक्षा में तैनात रहेंगे।

सुबह से शाम तक इंटरनेट बंद
राजस्थान में REET के दौरान नकल रोकने के लिए मोबाइल इंटरनेट बंद करने की घोषणा की गई है। इसके तहत राजधानी जयपुर में सुबह 7 से शाम 5 बजे तक, उदयपुर, भीलवाड़ा, अलवर, बीकानेर, दौसा, चित्तौड़गढ़, बाड़मेर, टोंक, अजमेर, नागौर में रविवार सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक, सवाई माधोपुर में 5:30 बजे से शाम 6 बजे तक, कोटा, बूंदी व झालावाड़ में सुबह 5 से शाम 5 बजे तक और सीकर में सुबह 8 से शाम 5 बजे तक इंटरनेट बंद रखने का फैसला किया गया है। इस दौरान लीज लाइन को नेटबंदी से मुक्त रखा गया है।

ऑनलाइन पेमेंट पर पड़ेगा असर
REET में इंटरनेट बंद होने से ऑनलाइन पेमेंट पर भी असर पड़ेगा। परीक्षा को देखते हुए सरकार ने कई जिलों में इंटरनेट बंद करने के आदेश दिए हैं। इससे फोन पे, गूगल पे, पेटीएम सहित सारे एप काम नहीं कर पाएंगे। जो अभ्यर्थी ऑनलाइन पेमेंट के भरोसो दूसरे जिले में परीक्षा देने जा रहे हैं। वे कैश लेकर घर से निकलेंगे तो सुविधा रहेगी। ऑनलाइन पेमेंट नहीं होने से अभ्यर्थियों को दिक्कत हो सकती है। ऑनलाइन पेमेंट नहीं होने से आम लोगों को भी बाजार में खरीदारी करने में समस्या रहेगी।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !