क्या वज़न घटाने में सच में कारगर साबित होता है सौंफ का पानी?

 


वज़न घटाना किसी के लिए आसान नहीं होता। एक स्वस्थ डाइट बनाए रखना और रोज़ाना वर्कआउट करना मुश्किल है। आप जो भी खाते हैं या फिर पीते हैं, उसका असर आपके वज़न पर पड़ता है। इसलिए हमेशा कहा जाता है, कि आप क्या खा रहे हैं इसका ध्यान रखें क्योंकि हर कदम मायने रखता है।

हालांकि, हेल्दी डाइट और वर्कआउट का कोई विकल्प नहीं है, लेकिन कुछ घरेलू नुस्खे हैं जो आपके लिए वज़न घटाने को आसान बना सकते हैं। ऐसा ही एक नुस्खा है सौंफ का पानी।

सौंफ आमतौर पर खाने के बाद माउथफ्रेशनर के तौर पर खाई जाती है। इसके अलावा यह अस्थमा, पेट में गैस और कंजेशन जैसी दिक्कतों के लिए भी कारगर साबित होती है।

क्या सौंफ के बीज वजन कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं?

सौंफ के बीज फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट और खनिजों का एक समृद्ध स्रोत हैं, जो शरीर में जमा वसा को जलाने में मदद करते हैं और इस तरह वजन घटाने में सहायता करते हैं। सौंफ के बीज पाचन और चयापचय में सहायता करते हैं, जिससे भोजन से पोषक तत्व के अवशोषण में वृद्धि होती है और इसलिए भूख कम लगती है।

 सुबह एक गिलास सौंफ का पानी पीने से आपका पेट लंबे समय तक भरा रहता है। जिससे आप ज़्यादा खाने से बचते हैं, जो मोटापे के पीछे सबसे बड़ा कारण है।

इन 6 तरीकों से सौंफ वज़न घटाने में आपकी मदद कर सकती है:

वजन घटाने के लिए सौंफ का सेवन करने का सबसे अच्छा तरीका एक चम्मच सौंफ लें और उसे एक गिलास पानी में रातभर भिगोकर रख दें। सुबह सबसे पहले इस पानी का सेवन करें। आप सौंफ की चाय भी ले सकते हैं।

मेटाबॉलिज़म को देता है बढ़ावा

आपका चयापचय उस दर को तय करता है जिस पर आपकी कोशिकाएं ऊर्जा का उपयोग करती हैं। सौंफ चयापचय को तेज़ करने में मदद कर सकता है, खासकर जब खाली पेट इसका सेवन किया जाता है।

भूख को दबाता है

सौंफ के बीज फाइबर से भरपूर होते हैं, जो आपको लंबे समय तक भरा रखता है और आपको ज़्यादा खाने से रोकते हैं। जब आपका पेट भरा होता है, तो आपके अनहेल्दी स्नैक्स खाने की संभावना भी कम हो जाती है, जिससे वज़न कम करने में मदद मिलती है।

डीटॉक्स में मददगार

सौंफ एक प्राकृतिक डिटॉक्सिफायर है और इसलिए भोजन के ठीक बाद सेवन करने पर यह अद्भुत काम करता है। यह आपके शरीर से कई तरह के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है और आपके पाचन तंत्र को शांत करता है, जिससे पाचन आसान हो जाता है।

पोषक तत्वों से भरपूर

सौंफ जिंक, फॉस्फोरस, सेलेनियम और मैंगनीज जैसे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती हैं। एंटीऑक्सिडेंट शरीर को मुक्त कणों से बचाने के लिए जाने जाते हैं। मुक्त कण शरीर में ऑक्सीडेटिव तनाव पैदा कर सकते हैं, जिससे मोटापा और कई अन्य बीमारियां हो सकती हैं।

पाचन में सहायता करता है

​सौंफ के बीजों में मौजूद वाष्पशील तेल जैसे एस्ट्रैगोल, फेनचोन और एनेथोल गैस्ट्रिक जूस के उत्पादन को बढ़ाकर पाचन में मदद करता है। और जैसा कि हम सभी जानते हैं, कि स्वस्थ पाचन से ही हम स्वस्थ तरीके से वज़न कम कर सकते हैं।

वॉटर रिटेंशन

सौंफ में मूत्रवर्धक गुण होते हैं इसलिए सौंफ की चाय या पानी पीने से आप शरीर में जमा अतिरिक्त पानी से छुटकारा पा सकते हैं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक