कोविड महामारी के दौरान किस तरह बढ़ गई पौष्टिक आहार की अहमियत

 


कोरोना वायरस महामारी ने हमारी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में कई तरह के बादलाव ला दिए हैं। हम एक दूसरे से शारीरिक दूरी बनाते हैं, घर पर ज़्यादा समय बिताते हैं और दोस्तों या परिवार के साथ बाहर घूम नहीं पा रहे हैं। घर पर ज़्यादा वक्त बिताने की वजह से हम में से ज़्यादातर लोगों को अस्वस्थ खाना खाने की बुरी आदत भी लग गई है। हालांकि, इसके बारे में थोड़ा सोचें और हेल्दी डाइट मेनटेन करने की ठान ली जाए, तो यह इतना मुश्किल काम भी नहीं है।

संतुलित आहार क्यों है ज़रूरी

आपकी डाइट हमेशा पोषण से भरपूर होनी चाहिए, लेकिन इस महामारी के दौरान, यह और भी ज़रूरी हो जाता है क्योंकि पोषण से भरपूर संतुलित आहार ही आपको एक मज़बूत इम्यून सिस्टम दे सकता है।

इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल की मुख्य आहार विशेषज्ञ डॉ. काजल पंड्या येप्थो का कहना है, " इंफेक्शन से लड़ने के लिए अच्छी इम्युनिटी को होना बहुत ज़रूरी है। अच्छे और सेहतमंद आहार से ही मज़बूत इम्युनिटी पाई जा सकती है। संतुलित आहार में आयरन, ज़िंक, विटामिन-ए, बी12, बी6, सी और ई का सेवन उचित मात्रा में करना बहुत ज़रूरी है, इन सभी विटामिनों और मिनरल्स का सेवन सही मात्रा में करने से इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाया जा सकता है। इन सभी पोषक तत्वों से युक्त संतुलित आहार महामारी के बाद की दुनिया में किसी भी तरह से इंफेक्शन से लड़ने में कारगर हो सकता है।"

ताज़ा फल-सब्ज़ियों को दें अहमियत

जब भी आप घर के सामान की शॉपिंग के लिए जाएं, तो पहले ही घर पर मौजूद सभी लोगों के हिसाब से एक लिस्ट तैयार कर लें। कोशिश करें कि इस दौरान जंक फूड कम से कम लें। ताज़ा खाने की चीज़ें खरीदते वक्त वैराएटी का ख़्याल रखें। सीज़न सब्ज़ियां और फल ज़रूर खरीदें।

ज़ायरोपैथी की संस्थापक और हेल्थ एक्सपर्ट कामायनी नरेश का कहना है, "भरपूर मात्रा में फलों और सब्ज़ियों का सेवन अत्यंत महत्वपूर्ण है क्योंकि वे विटामिन, खनिज और फाइबर का एक समृद्ध स्रोत हैं। एक आहार जो साबुत अनाज, नट्स और अनसैचुरेटेड फैट जैसे जैतून, तिल, या मूंगफली से भरपूर होता है, जो असंतृप्त का स्रोत होते हैं, अनसैचुरेटेड फैट प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन करने में मदद करता है। जितना हो सके पानी का सेवन करके हमेशा अपने शरीर को हाइड्रेट रखें। जड़ी-बूटियों का सहारा लेना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि तुलसी, हल्दी का पत्ता, बेल का पत्ता पोषक तत्वों का एक समृद्ध स्रोत है-और इसे हमारे दैनिक आहार में शामिल किया जाना चाहिए।

ऐसी रखें डाइट

-फाइबर, विटामिन और खनीज युक्त फल और सब्ज़ियों का सेवन खूब करें। फोज़न या डिब्बा बंद फल और सब्ज़ियों में भी विटामिन और खनीज की मात्रा होती है, लेकिन इनके प्रोसेस में कई बार अतिरिक्त चीनी, नमक और प्रिसरवेटिव भी डाले जाते हैं। इन्हें लेने से पहले लेबल ज़रूर पढ़ लें।

-साबुत अनाज, नट्स और स्वस्थ वसा जैसे जैतून, तिल, मूंगफली या असंतृप्त फैटी एसिड से भरपूर अन्य तेलों से भरपूर आहार का सेवन करें। ये खाद्य पदार्थ आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने का काम करते हैं।

- जब हम तवान में होते हैं, तो कभी-कभार कम्फर्ट फूड यानी जंक फूड खाना ठीक है। लेकिन इसे अपनी आदत न बनाएं। मेक एंड चीज़, पिज़्ज़ा, बर्गर और फ्राइज़ जैसे जंक फूड्स में फैट, शुगर और नमक की उच्च मात्रा होती है।

- रोज़ाना खूब पानी पिएं। शरीर को हाइड्रेट रखने से भी इम्यून सिस्टम मज़बूत रहता है। मीठा पेय पदार्थ न पिएं, इसकी वजह पानी की मात्रा को ही बढ़ाएं।

Disclaimer:लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक