हर दिन 10 हजार यात्री करेंगे बाबा बर्फानी के दर्शन; प्रशासन के कड़े नियम, ये दस्तावेज किए जरूरी

 


इस बार की अमरनाथ यात्रा की शुरुआत हो गई है. इसके लिए प्रशासन ने सख्त नियम बनाए हैं. इन नियमों का सख्ती से पालन करने वाला ही बाबा बर्फानी की पवित्र गुफा के दर्शन कर पाएगा.

बाबा बर्फानी  की पवित्र गुफा के दर्शन करने के लिए अमरनाथ यात्रा  की शुरुआत हो गई है. इस यात्रा के लिए प्रशासन  ने कड़े नियम बनाए हैं. नियमों का पालन करने वाले ही बाबा बर्फानी के दर्शन कर पाएंगे. वैसे हर रोज 10 हजार से ज्यादा यात्रियों के दर्शन करने का अनुमान है. नागरिकों और दुकानदारों के लिए आरएफआईडी  टैग जरूरी कर दिया है. हर यात्री की लोकेशन ट्रैक की जाएगी. इसके अलावा मेडिकल सर्टिफिकेट, फोटो जरूरी हैं.

इसके अलावा अमरनाथ यात्रा के लिए सड़क रास्ते से आने वाले यात्रियों के लिए नए प्रतिबंध लगाए गए हैं. अब दोपहर 3:30 बजे से पहले रामबन पार करना होगा. इस समय सीमा के बाद आने वाले सभी वाहनो को चंद्रकोट में रोका जाएगा. यात्रियों की सुरक्षा के चलते इस कदम को उठाया गया लेकिन इस के चलते सड़क मार्ग से आने वाले पर्यटकों को भी रोका जाएगा. इस बात से पर्यटन उद्योग से जुड़े लोग खासा नाराज़ हैं.

क्या होता है RFID

रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटीफिकेशन डिवाइस (आरएफआइडी) टैग जारी हुए हैं. इन श्रद्धालुओं को अलग-अलग समय पर यात्रा के लिए भेजा जाएगा. इस बार आरएफआइडी टैग के कोई भी श्रद्धालु यात्रा पर नहीं जा सकता है. जम्मू के भगवतीनगर आधार शिविर से रवाना होने से पहले ही श्रद्धालुओं को आरएफआइडी बैंड दे दिया जाता है. यह उनकी कलाई में बांध दिया जाता है. इस आरएफआइडी से पूरे यात्रा मार्ग पर श्रद्धालुओं की ट्रैकिंग होती रहेगी. यात्रा मार्ग से कोई भी श्रद्धालु इधर-उधर होता है तो उसकी सूचना संबंधित केंद्र पर पहुंच जाएगी. इससे आसानी से पता चल जाता है कि कौन सा श्रद्धालु इस समय किस स्थान पर है.

यात्रियों को कोरोना टेस्ट से भी गुजरना होगा

अमरनाथ यात्रा पर आने वाले यात्रियों की रैंडमली कोरोना टेस्टिंग होगी.  प्रदेश में एक बार फिर करोना का असर बढ़ने लगा है जिसके चलते ये फैसला लिया गया है. जम्मू कश्मीर में पिछले 24 घंटो में 94 नए मामले आए हैं. इस को देखते हुए अमरनाथ यात्रा पर आने वाले यात्रियों की टेस्टिंग होगी. यात्रियों की निगरानी के लिए ड्रोन की व्यवस्था की गई है.

प्रशासन द्वारा तय किए गए नियम इस प्रकार हैं-

  • 2 बजे के बाद श्रीनगर के लिए आवागमन होगा बंद
  • बेताब वेली भी दोपहर होते ही हो जाएगी बंद
  • आधार शिविर से सुबह पांच से आठ बजे ही शुरू करनी होगी यात्रा
  • आड़ू क्षेत्र में घूमने जाना है तो दोपहर तक लौटना होगा
  • दोपहर में होटल में पर्यटकों की उपस्थिति जांचेंगे संचालक

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

VIDEO आसींद में युवक से मारपीट, तोड़फोड़, आगजनी का प्रयास, बाजार बंद, दो के खिलाफ रेप का मामला दर्ज

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

पुलिस के साये में रहेगा विशाल,दो हथियारबंद जवान करेंगे सुरक्षा