मोबाइल वाटर टेस्टिंग लेबोरेट्री वेन द्वारा वाटर टेस्टिंग नाम पर खानापूर्ति

 


रायपुर हलचल (मुकेश शर्मा) पेयजल की गुणवत्ता की जांच के लिए सरकार करोड़ों रुपए वाटर टेस्टिंग लैबोरेट्री वेन पर खर्च कर रही है, लेकिन अफसरों की उदासीनता के कारण वाटर टेस्टिंग के कार्य में मात्र औपचारिकता पूरी की जा रही है तथा इसका खामियाजा पेयजल उपभोक्ताओं को भरना पड़ रहा हैं।

रायपुर उपखण्ड में पेयजल की गुणवत्ता की  "ऑन द स्पॉट "  जांचों के लिये मोबाइल वाटर टेस्टिंग लेबोरेट्री वेन द्वारा सेम्पल लिये जा रहे हैं ,लेकिन BHN द्वारा  लेबोरेट्री का निरीक्षण किया गया तो पूरी वेन कबाड़ हालात में नजर आई।

वेन में वाटर सेम्पल की जांच में आने वाली कोई भी मशीन चालू हालात में नही थी।लेबोरेट्री में खाना बनाया जा रहा था। वाटर टेस्टिंग के नाम पर केवल सेम्पल एकत्र किये जा रहे थे। सुपरवाइजर विशनाराम ने बताया कि वाटरसेम्पल लेकर भीलवाड़ा जमा कराया जायेगा। ऐसे में सवाल यह है कि वाटर टेस्टिंग के नाम पर गांव - गांव  मोबाइल वाटर टेस्टिंग लेबोरेट्री वेन  को घुमा घुमा करोड़ों रुपये खर्च क्यों किये जा रहे हैं।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

कपड़ा व्यवसायी के घर चल रहा था सेक्स रैकेट , 2 लड़कियां सहित 6 हिरासत में