कोटा हाइवे पर आगजनी, तोडफ़ोड़ व राजकार्य में बाधा उत्पन्न करने के मामले में तीन और गिरफ्तार


 भीलवाड़ा बीएचएन। भीलवाड़ा-कोटा हाइवे पर करीब दो साल पहले हुये हाइवे जाम, तोडफ़ोड़, आगजनी व राजकार्य में बाधा उत्पन्न करने के मामले में सदर थाना पुलिस ने तीन और आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का कहना है कि मुकदमेे में करीब 80 से 90 मुल्जिम है। इनमें से 60 से ज्यादा लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। 
सदर थाने के सहायक उप निरीक्षक मदन लाल ने बीएचएन को बताया कि 2020 में सांवर लाल नामक एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। पोस्टमार्टम के बाद शव मृतक के गांव ले जाया जा रहा था। इस बीच, सवाईपुर क्षेत्र में ग्रामीण हाइवे पर जमा हो गये और शव ले जा रही एंबुलेंस को वहीं रोक लिया। ये लोग मृतक परिजनों को मुआवजा देने की मांग को लेकर प्रदर्शन करने लगे। देखते ही देखते भीड़ उग्र हो गई और हाइवे पर उपद्रव करने लगी। इस दौश्रान हाइवे जाम कर, पुलिस पर पथराव किया गया, सरकारी संपत्ती को नुकसान और राजकार्य में बाधा उत्पन्न कर आगजनी की गई थी। बड़लियास पुलिस ने इस घटना को लेकर मामला दर्ज किया था। इसकी जांच सदर थाना प्रभारी को सौंपी गई थी। जांच के दौरान आरोप सिद्ध होने पर सदर पुलिस ने इस मामले में  किशनगढ़ निवासी भैंरू पुत्र बालु जाट, दुर्गेश पुत्र बन्ना जाट व सवाईपुर निवासी राजू पुत्र नंदराम दास को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस का कहना है कि मुकदमे में अब तक 60 से 62 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। शेष की गिरफ्तारी के प्रयास जारी है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

VIDEO आसींद में युवक से मारपीट, तोड़फोड़, आगजनी का प्रयास, बाजार बंद, दो के खिलाफ रेप का मामला दर्ज

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

पुलिस के साये में रहेगा विशाल,दो हथियारबंद जवान करेंगे सुरक्षा