कन्हैया के कातिल के घर से संदिग्ध दस्तावेज मिले, एक और वीडियो आया सामने

 


उदयपुर। कन्हैयालाल हत्याकांड की जांच नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए ) कर रही है। गुरुवार को एनआईए की टीम और एक्टिव नजर आई। एनआईए के अधिकारियों ने घटनास्थल का मुआयना किया। साथ ही कन्हैयालाल की दुकान और पूरी गली की वीडियोग्राफी भी करवाई है।इधर, कन्हैया हत्याकांड से जुड़ा एक और सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। यह फुटेज 28 जून शाम करीब सवा चार बजे सुखेर थाना इलाके के पेट्रोल पंप का है। वीडियो में दिख रहा व्यक्ति रियाज अत्तारी की बाइक से पेट्रोल भरवाते दिखाई रहा है। हैलमेट लगाए होने के कारण बाइक सवार का चेहरा नहीं दिखाई दे रहा है। ऐसे में एनआईए की टीम वीडियो में दिख रहे युवक के बारे में भी जानकारी जुटा रही है।  

एनआईए की टीम राजस्थान एटीएस के अधिकारियों के साथ गुरुवार को घटनास्थल का पर पहुंची। इस दौरान कन्हैयालाल की दुकान और गली की वीडियोग्राफी की गई है। इससे पहले एनआईए की टीम कन्हैया हत्याकांड के मुख्य आरोपी मोहम्मद गौस और रियाज अत्तारी के किशनपोल इलाके में स्थित उनके घर पर भी पहुंची। बताया जा रहा है कि टीम ने आरोपियों के कमरों से सिम और कुछ संदिग्ध दस्तावेज बरामद किए हैं। इस दौरान आरोपियों के पड़ोसियों से भी पूछताछ की गई है। 

   

उदयपुर हत्याकांड

हैदराबाद से जुड़ा हत्या का कनेक्शन 
इससे पहले बुधवार को एनआईए की टीम ने हैदराबाद में रहने वाले मुनव्वर हुसैन को गिरफ्तार किया था। मुनव्वर का नाम पहले से गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में सामने आया था। साथ ही आरोपियों की कॉल डिटेल में भी उसकी जानकारी सामने आई थी। इसके बाद एनआईए की टीम मुनव्वर को लेकर बुधवार को जयपुर पहुंची और पूछताछ के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया था। मुनव्वर हुसैन बिहार के भागलपुर का रहने वाला है और अभी हैदराबाद में रह रहा था। वह एक मदरसे से तालीम ले रहा था। 

अब तक सात आरोपी गिरफ्तार
हन्हैयालाल हत्याकांड में अब तक 7 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। जिनमें मुख्य आरोपी मोहम्मद रियाज, मोहम्मद गौस, मोहसिन खान, आशिक हुसैन, मोहम्मद मोहसिन, वसीम अत्तारी और मुनव्वर हुसैन को गिरफ्तार किया गया है। वहीं कुछ अन्य संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। 

अन्य लोगों को धमकी देने वाले चार आरोपी गिरफ्तार  
इधर, नुपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर कई अन्य लोंगों को धमकी देने के आरोप में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इन सभी ने लोगों को जान से मारने की धमकी दी थी। पकड़े गए आरोपियों के नाम अब्दुल मुत्तलीबअली, गुफरान हुसैन, शाहिद नवाज खान, शोएब जिलानी है। यह भी उदयपुर के ही रहने वाले हैं। पुलिस ने इनसे पुछताछ कर यह जानने का प्रयास कर रही है कि क्या ये आरोपी कन्हैया के हत्यारों या साजिशकर्ताओं के संपर्क में थे। वहीं सुरक्षा को देखते हुए पुलिस पीड़ितों नाम बताने से बच रही है। 

 

 

28 जून को क्या हुआ था?
इन दिन उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या कर दी गई थी। वह धानमंडी इलाके के भूत महल क्षेत्र में रहते थे और पेशे से दर्जी थे। दो मुस्लिम युवक कपड़े का नाप देने के बहाने उनकी दुकान पर पहुंचे और धारदार हथियार से कन्हैया पर वार करना शुरू कर दिया। ताबड़तोड़ हमलों ने कन्हैया को संभलने का मौका तक नहीं दिया। उसकी गर्दन कट गई और मौके पर ही मौत हो गई। हमले में दुकान पर काम करने वाला उसका साथी ईश्वर सिंह भी गंभीर रूप से घायल हो गया। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

कपड़ा व्यवसायी के घर चल रहा था सेक्स रैकेट , 2 लड़कियां सहित 6 हिरासत में