आंखों देखी मौतें: भाजपा MLA ने सुनाई खौफनाक कहानी-मैं टट्टू से उतर रहा था, तब पहाड़ियों के नीचे बादल फटते देखा

 


जम्मू-कश्मीर.दक्षिण कश्मीर में अमरनाथ की पवित्र गुफा के पास बादल फटने(cloudburst near the holy cave shrine of Amarnath) से आई बाढ़ ने कई श्रद्धालुओं की जान ले ली। तेलंगाना के BJP विधायक टी राजा सिंह(Telangana BJP MLA T Raja Singh) और उनकी फैमिली इस हादसे में बाल-बाल बच गई। एक हेलिकॉप्टर से अमरनाथ पहुंचे राजा सिंह और उनके परिवार के सदस्यों ने मौसम बिगड़ने से पहले पहाड़ियों से उतरने के लिए टट्टू का इस्तेमाल करने का फैसला किया था। हादसे में बाल-बाल बचे तेलंगाना के BJP विधायक टी राजा सिंह(Telangana BJP MLA T Raja Singh)  ने कहा-"हमने देखा कि मौसम अचानक खराब हो गया। ऐसे हालात में हेलिकॉप्टर सेवा भी कैंसल कर दी जाएगी। इसलिए हमने टट्टू का उपयोग करके पहाड़ियों पर उतरने का फैसला किया। मैंने पहाड़ियों से लगभग एक किलोमीटर नीचे बादल फटते हुए देखा। कई टेंट बाढ़ में बह गए। राजा को स्पेशल सिक्योरिटी मिली हुई है, इसलिए सेना ने उन्हें फैमिली सहित श्रीनगर पहुंचाया। 

 

BJP विधायक टी राजा सिंह  ने कहा- हादसे वाले दिन बाबा के दर्शन के लिए अमरनाथ गुफा में हजारों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। विधायक को शक है कि बाढ़ में 50 लोग बहे होंगे। राजा ने कहा कि अमरनाथ गुफा में सेना बहुत अच्छा काम कर रही थी। लेकिन वे इस तरह की परिस्थितियों में असहाय थे और अंधेरा भी था। आगे देखिए रेस्क्यू की कुछ तस्वीरें...

ITBP के PRO विवेक कुमार पांडे ने कहा-स्थानीय प्रशासन से हमें सूचना मिली है कि करीब 30-40 लोग अभी गुमशुदा हो सकते हैं। हम ITBP, भारतीय सेना, NDRF, SDRF और जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। गुफा वाले इलाके से हमें कई गुमशुदा लोग मिल सकते हैं।
 

 

IGP कश्मीर विजय कुमार और कश्मीर के डिविजनल कमिश्नर शनिवार सुबह अमरनाथ पवित्र गुफा पहुंचे और रेस्क्यू ऑपरेशन की निगरानी की। यहां से लोगों को सुरक्षित भेजा जा चुका है।
 

नोडल चिकित्सा अधिकारी मेजर पंकज कुमार ने बताया कि उनके पास 10 मरीज आए थे, जिनको प्राथमिक चिकित्सा देकर बालटाल अस्पताल भेजा दिया। 

 

DG, NDRF अतुल करवाल ने कहा-शनिवार तड़के साढ़े 4 बजे तक रेस्क्यू का काम चला फिर बारिश के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन रोका गया। इसके बाद सुबह 6 बजे से रेस्क्यू ऑपरेशन फिर शुरू किया गया।

ITBP, दिल्ली के  PRO विवेक कुमार पांडे ने कहा-पवित्र गुफा से पंजतरणी का 6 किमी का इलाका है। हम लगभग 15,000 लोगों को पंजतरणी में लेकर आए हैं। उन्हें खाना शेल्टर, आदी मुहैया कराया जा रहा है। हमने रात में ही सभी लोगों को रास्ते से बचा लिया था।

 

अमरनाथ गुफा स्थल से घायल तीर्थयात्रियों को भारतीय वायु सेना के एमआई-17 हेलीकॉप्टर में आगे के इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा है। IAF के एक अधिकारी ने बताया कि खराब मौसम के कारण लद्दाख सेक्टर से श्री घाटी में हेलिकॉप्टरों को लाना मुश्किल।

 

ITBP दिल्ली के  PRO विवेक कुमार पांडे ने कहा-अमरनाथ यात्रा फिलहाल के लिए रोक दी गई है। लोगों को हम सलाह दे रहे हैं कि वह ऊपर न जाए। सभी यात्री सुरक्षित हैं और चिंता की बात नहीं है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

कपड़ा व्यवसायी के घर चल रहा था सेक्स रैकेट , 2 लड़कियां सहित 6 हिरासत में