नेत्रदान किया

 

 

 भीलवाड़ा बीएचएन। भारत विकास परिषद विवेकानन्द की प्रेरणा से लाहोटी परिवार के सदस्यों ने मानव सेवा की भावना से श्रीमती रत्ना देवी लाहोटी प्रत्नी डाॅ़ अनिल लाहोटी के निधन पर अभिषा व डाॅ़ अभिषेक लाहोटी द्वारा अपनी माता के स्वर्गवास के बाद रामस्नेही आई बैंक में नैत्र उत्सर्जन कर नेत्रदान का कार्य संपन्न किया गया। इस पुनीत कार्य में भारत विकास परिषद विवेकानन्द भीलवाड़ा नेत्रदान प्रभारी लवकुश काबरा का सहयोग रहा। काबरा ने बताया कि नेत्रदान संसार का सबसे बड़ा दान होता है। नेत्रदान से दुनिया में दो नेत्रहीन को रोशनी मिलती है।  शाखा अध्यक्ष रजनीकान्त आचार्य, सचिव बालमुकन्द डाड, कैलाश चंद्र अजमेरा व लव कुश काबरा द्वारा परिवारजन को नेत्रदान के इस पुनीत कार्य में योगदान के लिए साधुवाद व आभार प्रकट कर मुमेन्टो प्रदान किया गया।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा