भालेरी पुलिस कस्टडी मौत मामले में SHO और दो कांस्टेबल निलंबित

 

चूरू के भालेरी पुलिस कस्टडी में एक आरोपी की मौत हो गई। आरोपी चलती बस से कूद गया था। इस मामले ने शनिवार को तूल पकड़ लिया। शनिवार की रात को मृतक के परिजन और ग्रामीण मोर्चरी के पास धरने पर बैठ गए। मामले की गंभीरता को देखते हुए बीकानेर रेंज आईजी ओम प्रकाश और एसपी दिगंत आनंद भी शनिवार रात्रि तारानगर पहुंचे।परिजनों की मांग और मामले की गंभीरता को देखते हुए भालेरी थाना अधिकारी केदारमल मीणा सहित पुलिस कांस्टेबल सत्यवीर और भैरव सिंह को सस्पेंड कर दिया गया। वहीं शुक्रवार देर रात मामले में मृतक के आश्रितों को उचित मुआवजा देने, मामले की न्यायिक जांच और मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम की मांग पर सहमति बन गई। इधर तारानगर पुलिस थाना, तारानगर अस्पताल, नया बस स्टैंड, मोर्चरी आदि जगह पुलिस जाब्ते सहित बड़ी संख्या में रात को ग्रामीण मौजूद रहे। मामले में रविवार को मृतक का पोस्टमार्टम चूरू में होगा। 


बता दें कि भालेरी पुलिस ने आरोपी प्रमोद निवासी ढांढण को शुक्रवार रात गिरफ्तार किया था। आरोपी को शनिवार को कोर्ट में पेश करने के लिए तारानगर ला रहे थे कि बीच में गांव बुचावास के पास प्रमोद बस से कूद गया। जिसके बाद उसे तारानगर सीएचसी लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक प्रमोद के ससुराल पक्ष के गांव बुचावास के लोगों ने दहेज प्रताड़ना का भालेरी थाने में मामला दर्ज करवा रखा था।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना