पुलिस की बड़ी कार्रवाई, ट्रक में लोड दो करोड़ रुपये की कीमत का 1000 किलो गांजा पकड़ा

 

राजस्थान पुलिस की सीआईडी क्राइम ब्रांच की टीम ने मध्यप्रदेश के गुना थाना इलाके में राजस्थान नंबर के एक ट्रक में जलपाईगुड़ी से तस्करी कर लाया जा रहा 1000 किलो गांजा पकड़ा है। बरामद मादक पदार्थ की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब दो करोड़ रुपये है। गुना पुलिस ने ट्रक सवार तस्कर को एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया।

अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस डॉ. रविप्रकाश मेहरडा ने बताया, सीआईडी क्राइम ब्रांच की टीम को मुखबिर से सूचना मिली थी कि झालावाड़ निवासी तस्कर महेंद्र सिंह ने राजस्थान में सप्लाई के लिए अवैध मादक पदार्थ की बड़ी खेप मंगवाई है। सूचना पर डीआईजी राहुल प्रकाश के निर्देशन और क्राइम ब्रांच के डीएसपी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ के सुपरविजन में एक विशेष टीम गठित की गई।एडीजी मेहरडा ने बताया, शनिवार को टीम सरकारी गाड़ी से एमपी की तरफ रवाना हुई। सूचना के अनुसार, पीछा कर रही सीआईडी टीम ने गुना से कुछ दूरी पहले राजस्थान नंबर के संदिग्ध ट्रक को रुकवाना चाहा तो ट्रक सवार तस्कर ने जान से मारने की नियत से पुलिस जीप पर ट्रक चढ़ाने की कोशिश की ओर भागने लगा। किसी प्रकार से टीम बाल-बाल बच गई। इंस्पेक्टर राम सिंह नाथावत ने गुना थाना पुलिस को सूचित किया और आगे नाकाबंदी करवा ट्रक का पीछा जारी रखा। गुना बाईपास प्रसार भारती दूरदर्शन केंद्र के सामने नाकाबंदी में लोकल पुलिस ने ट्रक को रोक लिया। पीछा करती सीआईडी की टीम भी वहां पहुंच गई। राजस्थान नंबर के उक्त ट्रक में रबर मैटेरियल भरा हुआ था, जिसके नीचे पैकेट छुपाए हुए थे।10-10 किलो के कुल 100 पैकेट मिले...
एडीजी ने बताया, तलाशी में 10-10 किलो के कुल 100 पैकेट मिले, जिनमें 1000 किलो गांजा भरा हुआ था। ट्रक सवार तस्कर बद्रीलाल यादव पुत्र गंगाराम (41) निवासी गांव रतन खेड़ी थाना आगर मालवा मध्यप्रदेश से पूछताछ की गई तो उसने जलपाईगुड़ी के पास माता बंगा क्षेत्र से गांजा झालावाड़ के दाता का खेड़ा निवासी महेंद्र सिंह पुत्र तूफान सिंह तथा आगर मध्यप्रदेश निवासी कमल सिंह और चेन सिंह ठाकुर के लिए लाना बताया।

अवैध मादक पदार्थ से भरा ट्रक जप्त कर तस्कर बद्री लाल यादव को एनडीपीएस एक्ट के तहत गुना पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। अग्रिम कार्रवाई गुना पुलिस द्वारा की जा रही है। इंस्पेक्टर राम सिंह नाथावत के नेतृत्व में गठित इस टीम में हेड कांस्टेबल शंकर दयाल शर्मा और मदन शर्मा तथा कांस्टेबल रवींद्र सिंह और सोहन देव शामिल रहे।

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत