इंटर जिं़क क्रिकेट चैंपियनशिप टूर्नामेंट का आगाज

 


चित्तौड़गढ़। जिं़क नगर खेल मैदान पर दूधिया रोशनी में इंटर जिंक क्रिकेट चैम्पियनशिप टुर्नामंेट का शुभारम्भ हुआ। उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि चंदेरिया लेड जिं़क स्मेल्टर के लोकेशन हेड दीपक सपोरी, चंदेरिया लेड जिं़क स्मेल्टर मजदूर संघ के कार्यकारी अध्यक्ष एस के मोड तथा लोकेशन एचआर हेड अनूप कुमार ने टूर्नामेंट की विधिवत शुरूआत की। उद्घाटन मैच चंदेरिया लेड जिं़क स्मेल्टर मैनेजमेंट व यूनियन के बीच खेला गया। टॉस जीत कर यूनियन और पहले बल्लेबाजी की निर्धारित 20 ओवर में 114 रन का लक्ष्य खडा किया। यूनियन की ओर से चंद्र सिंह ने 47 और दिलीप सिंह ने 27 रन बनाएं। मैनेजमेंट की टीम से दीपक सपोरी ने 4 ओवर में 20 रन देकर 2 विकेट चटकाएं। मैनेजमेंट की टीम की ओर से मनोज अग्रवाल के 35 रनों के सहयोग से 17 ओवर और 4 गेंदों में लक्ष्य का पिछा कर मैच जीत लिया। मंजीत सिंह व नरेश आमेटा ने एक-एक विकेट लिया। मैन ऑफ द मैच दीपक सपोरी रहे। इस अवसर पर सपोरी ने कहा कि इस प्रकार के आयोजन स्फुर्ति एवं दूगुने उत्साह से कार्य हेतु प्रेरित करते है। खिलाड़ियों का प्रोत्साहन करते हुए उन्होंने कहा कि खेल में हार जीत नहीं खिलाड़ी खेल भावना से खेल कर अपने उच्च खेल का प्रदर्शन करें। उद्घाटन समारोह में आयोजन समिति अध्यक्ष कमोद सिंह ने स्वागत उद्बोधन दिया। एसके मोड व अनूप कुमार ने कहा कि हिन्दुस्तान जिंक के टीमों के बीच इस प्रकार के आयोजन कार्यक्षेत्र में प्रेरणा के लिये महत्वपूर्ण है। इससे पूर्व टूर्नामेंट के संयोजक इंद्रजीत सिंह भाटी ने टीमों की जानकरी दी। 15 दिसंबर तक आयोजित होने वाले इस टूूर्नामेंट में हिन्दुस्तान जिं़क की सभी इकाईयों की 27 टीमे भाग लेंगी जिसमें 300 से अधिक खिलाडी प्रतिभागी होगें। उद्घाटन समारोह का संचालन यूनियन कोषाध्यक्ष एवं समिति सदस्य जीएनएस चौहान ने किया। इस अवसर पर आयोजन समिति के विजय राव, तरूण सोबेला, अभिषेक पाठक, नरेन्द्र गहलोत, पुष्कार सिदारा, लोकेश प्रजापति, अक्षिता श्रीवास्तव, पीएस राठौड़, वरिष्ट प्रबंधन और कर्मचारियों के साथ बड़ी संख्या में खेल प्रेमी उपस्थित थे। टीमों के बीच लीग मैच के विजेताओं में सेमीफाइनल व फाइनल मैच खेले जाएगें।
 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार