सभापति ने दिखाया आक्रामक रूप, कहा- बिना तैयारी के सीज किये जा रहे है काम्पलेक्स, दलालों के खिलाफ हो पुलिस कार्रवाई

 

भीलवाड़ा (हलचल)। नगर परिषद सभापति राकेश पाठक ने आक्रमकता दिखाते हुए कहा कि अवैध निर्माण के नाम पर जो खेल खेला जा रहा है वह लोगों की रोजी रोटी छिनने वाला है। उन्होंने कहा कि ऐसे खेल के पीछे पूरी तैयारी होनी चाहिए। उनका कहना था कि इस खेल में दलाल भी खेला कर रहे है। ऐसे दलालों के खिलाफ भी लोगों को आगे आकर पुलिस कार्रवाई अमल में लानी चाहिए। यही नहीं उन्होंने कहा कि कॉम्पलेक्सों के खिलाफ नगर परिषद द्वारा की जा रही कार्रवाई आपाधापी का एक नमूना है। जिसके चलते परिषद को मुंह की खानी पड़ रही है और सीज काम्पलेक्सों को खोलना पड़ रहा है। 
परिषद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए पाठक ने कहा कि आधी अधूरी जानकारी के चलते परिषद द्वारा कॉम्पलेक्सों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। उनको नोटिस दिए जा रहे है, सीज किये जा रहे है। इनका कहना था कि पहले पूरी जानकारी और तैयारी के साथ कार्रवाई की जाये जिससे परिषद की छवि खराब न हो। उन्होंने कहा कि हाल ही में सीज किये गये काम्पलेक्सों में से कुछ के नक्शे पास होने के कारण उन्हें खोलना पड़ा है। पाठक का कहना है कि 25-30 साल पहले जिनके नक्शे पास है उन्हें परेशान करना उचित नहीं है। पाठक ने बताया कि न्यायालय का जो निर्देश है वह यह है कि जिनके नक्शे पास नहीं है या फिर जिन्होंने ग्राउण्ड फ्लोर या नक्शे में पार्किंग दिखाई है उसके स्थान पर कोई और निर्माण किया है उसे नोटिस दिया जाये और सीज किया जाये लेकिन ऐसा हो नहींं रहा है। उन्होंने कहा कि मैंने दो महीने पहले ईओ नोट लिखा था जिसमें अवैध निर्माण और अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए थे। लेकिन उस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। 
पाठक ने कहा कि पुरानी गलतियों को सुधारने के बजाय नई गलती नहीं करें इसे लेकर उन्होंने कहा कि वर्तमान में जो निर्माण चल रहे है उन्हें नियमानुसार कराने के लिए परिषद के जिम्मेदार अधिकारी ध्यान रखे ताकि नई समस्या खड़ी न हो। 
उन्होंने कहा कि ऐसे लोग उनसे भी सम्पर्क कर सकते है। उन्होंने कहा कि मैं किसी का व्यापार नहीं छिनना चाहता हूं। लेकिन किसी को परेशान नहीं किया जाना चाहिए। हाईकोर्ट के आदेशों की पालना की जाय लेकिन नियमानुसार हो। उन्होंने कहा कि शहर की यातायात व्यवस्था सुधारने के लिए कहीं तोडफ़ोड़ की आवश्यकता है तो उसे की जानी चाहिए, सड़कों पर किसी ने कब्जे किये तो उसे हटाना चाहिए। 
मिलीभगत का खेल : परेशान लोग पुलिस की लें मदद
पाठक का कहना था कि कुछ लोग अवैध निर्माण के नाम पर खेल खेल रहे है। इनमें मीडिया, अधिकारी व कुछ अन्य लोग भी शामिल है। उन्होंने किसी का नाम लिये बगैर कहा कि पीडि़त लोग ऐसे खेल खेलने वालों के खिलाफ पुलिस में जायें और उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायें ताकि वे बेनकाब हो सके। उन्होंने कहा कि जैसे सूदखोरों के खिलाफ कार्रवाई होती है वैसे ही ऐसे दलालों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए। लोगों को इसके लिए आगे आना चाहिए। 
संयुक्त रूप से नहीं होती कार्रवाई :
पाठक ने कहा कि शहर में अस्सी फीसदी क्षेत्र यूआईटी का है । वहां अवैध निर्माण हो रहे है लेकिन कोई बोलने वाला नहीं है, उन्होंने मीडिया से सवाल करते हुए कहा कि वहां की भी आवाज उठानी चाहिए जो दिन भर यूआईटी में बैठते है व नगर परिषद के बाहर आकर धरना दे रहे है। वहां कोई नहीं बोलता। उन्होंने कहा कि कार्यपालिका काम नहीं कर रही है। मैंने अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई के लिए कई पत्र लिखे है। लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। लेकिन यह पत्र कभी तो बोलेंगे। सत्ता बदलती रहती है आज नहीं तो कल इन पर कार्रवाई होगी। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत