अब बजरी माफियाओं ने रॉयल्टीकर्मियों पर किया हमला, चार घायल, बोलेरो तोड़ी

 

 भीलवाड़ा बीएचएन। भीलवाड़ा में बजरी माफियाओं पर न तो पुलिस और न ही प्रशासन का अंकुश है। ये ही वजह है जिससे कि ये माफिया कभी किसी पर तो कभी किसी पर हमला, फायरिंग करने और पुलिस और आमजन पर हमला कर वाहनों से कुचलने तक से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसी ही एक और घटना कारोई थाना इलाके में हुई, जहां रॉयल्टीकर्मियों पर बजरी माफियाओं ने हमला कर जीप तोड़ दी। इसे लेकर पुलिस ने केस दर्ज किया है।
पुलिस के अनुसार, अजमेर जिले के शेरों का बाला (तारागढ़) थाना जवाजा निवासी रॉयल्टीकर्मी मूल सिंह 32 पुत्र नाथुसिंह रावत ने कारोई थाने में रिपोर्ट दी कि 2 नवंबर रात 12.30 बजे  करीब दांता की तरफ  डंपर में अवैध रुप से बजरी परिवहन किया जा रहा है। सुचना पर राहुल सिंह, सांवरिया, मुल सिंह, भोला सिंह बोलेरो जीप लेकर  दांता के पास पहुंचे। वहां  से डंपर जा चुके थे। रॉयल्टीकर्मी पुन: बजरी रायल्टी चैक पोस्ट से वापस गोवलिया के पास पुलिया पर पहुंचे कि एक सफेद रंग की बिना नंबरी बोलेरो, एक ब्लैक अल्टो  बिना नम्बरी व 2-3 बाइक्स आगे लगाकर बोलेरो रुकवा ली। बोलेरो के कांच तोड़ दिये। रॉयल्टीकर्मियों के साथ मारपीट की। मारपीट से  राहुल, सांवरिया, मूल सिंह, भोला सिंह को चोटें लगी । बोलेरों में भी काफी नुकसान हुआ।
परिवादी का आरोप है कि मारपीट करने वालों में सुखदेव पुत्र नंदराम गुर्जर(तगडिया), प्रकाश पुत्र राधेश्याम गुर्जर (दोलपुरा),उदयराम गुर्जर (दोलपुरा), शंकर पुत्र जगु गुर्जर (कानपुरा)शामिल थे। इनके साथ  5-7 जने और थे, जिनका पीडि़त पक्ष नाम नहीं जानते।  पुलिस ने मूल सिंह की इस रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया। इसकी जांच दीवान अर्जुन सिंह को सौंपी गई है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग