Monday, May 31, 2021

वेदांता ग्रुप ने कर्मचारियों के लिए शुरू किया टीकाकरण अभियान

 


 भीलवाड़ा हलचल। वेदांता समूह की कंपनी हिंदुस्तान जिंक ने प्रदेश में संचालित अपनी सभी इकाइयों के कर्मचारियों, व्यावसायिक भागीदारों और उनके परिवार के सदस्यों हेतु कोविड 19 से बचाव के लिये विशाल टीकाकरण अभियान शुरू किया है। कंपनी विभिन्न राहत उपायों के माध्यम से कोविड-19 के राहत एवं बचाव के लिये समुदायों, राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन के साथ प्रतिबद्ध है।  टीकाकरण अभियान में प्रदेश के 5 जिलों अजमेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, राजसमंद और उदयपुर में संचालित कंपनी के कर्मचारियों, बिजनेस पार्टनर कर्मचारियों और उनके परिवारों लाभान्वित होगें।
कंपनी से जुडे लोगों के स्वास्थ्य और उनके हित को सुनिश्चित करने की अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करते हुए, टीकाकरण अभियान के लिये कंपनी को टीके की 50,000 खुराकें मिल चुकी हैं। सभी इकाइयों में कर्मचारियों और परिवार के सदस्यों का टीकाकरण किया जा रहा है। वेदांता टीकाकरण योजना को पूरा करने के लिए अतिरिक्त 2 लाख टीके मंगवा रही है, जिसमें परिवार के सदस्यों के साथ-साथ बिजनेस पार्टनर भी शामिल हैं। कार्यक्रम के तहत 1.2 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण किया जाएगा।
हिंदुस्तान जिंक, वेदांता के चेयरमैन के गिविंग बेक टू कम्यूनिटी के विचार के लिए प्रतिबद्ध है, महामारी के खिलाफ राहत एवं बचाव के अपने प्रयासों में राजस्थान सरकार के साथ प्रतिबद्ध है।
इस अवसर पर वेदांता के चेयरमैन अनिल अग्रवाल ने कहा कि “वेदांता के हर सदस्य और व्यापारिक भागीदारों के परिवारों की सुरक्षा और हित सर्वोपरि है। हमारा टीकाकरण अभियान सुनिश्चित करेगा कि हमारे शत-प्रतिशत लोगों का टीकाकरण हो जाए। हम देश के टीकाकरण कार्यक्रम में योगदान देने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों के साथ मजबूती से तत्पर हैं।”
वेदांता द्वारा देश में कोविड रोगियों के लिए 10 वेदांता केयर्स फील्ड हाॅस्पीटल स्थापित किये जा रहे है। फील्ड हाॅस्पीटल परियोजना अनिल अग्रवाल फाउंडेशन की एक पहल है जो कि दिल्ली एनसीआर, छत्तीसगढ़, राजस्थान, कर्नाटक, ओडिशा, झारखंड और तमिलनाडु में शुरू की जा रही है।
अगले कुछ दिनों में हिंदुस्तान जिंक और उनके परिवारों के 100 प्रतिशत कार्यबल को टीकाकरण प्रदान करना हैं। इस टीकाकरण अभियान का उद्देश्य न केवल अपने कर्मचारियों और उनके परिवारों को सुरक्षित बनाना है, बल्कि प्रशासन को महामारी की चुनौतियों का अधिक प्रभावी ढंग से मुकाबला करने में मदद करना है।
इस बीच, कर्मचारियों और उनके परिवारों को सुरक्षा की भावना प्रदान करने के लिए, कंपनी ने समूह के सभी कर्मचारियों के लिए विश्वव्यापी कवरेज के साथ सर्वश्रेष्ठ टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी प्रदान की है। यह पॉलिसी कर्मचारियों के 5 गुना निश्चित वेतन का बीमाकृत राशि प्रदान करती है जो 5 वर्षों के वार्षिक वेतन के बराबर है। टर्म लाइफ इंश्योरेंस कर्मचारियों के आश्रितों को मृत्यु की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में वित्तीय सुरक्षा प्रदान करता है और यह मेडिक्लेम और समूह व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा पॉलिसियों के अतिरिक्त है जो वर्तमान में आपात स्थिति में कर्मचारियों को सहयोग हेतु प्रदान की गयी है।चिकित्सा बीमाकृत राशि को भी मौजूदा पात्रता से 1.5 गुना तक बढ़ा दिया गया है। वेदांता सभी प्रकार की आवश्यक सहायता प्रदान कर रहा है और समस्त कर्मचारियों के लिए कॉर्पोरेट फ्लोटर से जोड़ा गया है जो उनकी पात्रता से अधिक है।

कंपनी ने इस माह के प्रारंभ में 5 दिनों के रिकॉर्ड समय में राजसमंद स्थित दरीबा इकाई में ऑक्सीजन बॉटलिंग प्लांट स्थापित कर अब तक 11,000 से अधिक मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति की है और 300 मीट्रिक टन लिक्विड आॅक्सीजन का सहयोग किया है। हिन्दुस्तान जिंक ने विशेष रूप से प्रदेश के लिए 500 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर वेदांता समूह के चेयरमैन अनिल अग्रवाल की उपस्थिति में वर्चुअल कार्यक्रम में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सौंपे हैं।
हिंदुस्तान जिंक ने सुचारू टीकाकरण अभियान का समर्थन करने के लिए उदयपुर जिला चिकित्सा स्वास्थ्य कार्यालय को एक इंसुलेटेड वैक्सीन वैन प्रदान की। कंपनी ने सोडियम हाइपोक्लोराइट घोल का छिड़काव और मास्क, सैनिटाइजर और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) जैसे चिकित्सा उपकरण प्रदान कर गांवों में संक्रमण को रोकने, जागरूकता राहत एवं बचाव हेतु स्थानीय स्वास्थ्य प्रशासन को सहयोग दिया है।

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...