रतनपुरा में पकड़े गए पांच संदिग्ध युवक निकले बेकसूर

 


गंगापुर (सुरेश शर्मा) निकटवर्ती ग्राम रतनपुरा में शनिवार की देर रात्रि में ग्रामीणों द्वारा पकड़े गए पांच संदिग्ध युवकों गंगापुर पुलिस ने कड़ी पूछताछ की, युवक चोरी व लूट के इरादे से नहीं आए थे। प्रसिद्ध तीर्थ स्थल खजुरिया श्याम दर्शन करने व अपने परिवार जनों से मिलकर घर वापस जा रहे थे इस दौरान ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गए।

गंगापुर थाना प्रभारी नारायण सिंह ने बताया कि शनिवार की रात में गांव में पहरेदारी कर रहे ग्रामीणों ने पांच युवकों के द्वारा संतोषप्रद जवाब नहीं देने पर उन्हें चोर समझकर पकड़ लिया था। गंगापुर पुलिस पांचों युवकों को थाने लाई। यूवको से कड़ाई से पूछताछ की गई। युवकों के बारे में गहनता से छानबीन की गई। युवक आमेट के निकट बाड़ा, देवाजी का गुड़ा गांव से मोटरसाइकिल पर सवार होकर प्रसिद्ध तीर्थ स्थल खजुरिया श्याम पर दर्शन करने आए थे। वही अपने परिजनों से मिलने के लिए गंगापुर आए। यहां से वापस निकल कर जाते समय मोटरसाइकिल का टायर पंचर हो जाने से युवकों को देर हो गई। रात्रि 11 बजे के लगभग युवक रतनपुरा रोड से निकल रहे थे। तभी गांव में पहरेदारी कर रहे ग्रामीणों ने उन्हें पकड़ लिया। भारी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ देखकर युवक डर गए। एक युवक मौके से भाग छूटा। ग्रामीणों को क्षेत्र में लूट व चोरी की वारदातें करने वाले चोरों की आशंका हुई। ग्रामीणों ने उन्हें पकड़कर बिठा दिया। गंगापुर पुलिस के हवाले कर दिया। गंगापुर पुलिस ने पांचों युवक सुरेंद्र सिंह निवासी बाड़ा, धर्मा सालवी निवासी देवाजी का गुड्डा, भैरू सिंह राजपूत निवासी रादरोल, अशोक वैष्णव निवासी बाड़ा, शंभूलाल भील निवासी बड़ा थाना आमेट को शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया। गंगापुर उपखंड मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया जहां उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक