शाहपुरा काॅलेज में रिक्त पदों को भरने की मांग को लेकर दिया ज्ञापन

 


शाहपुरा-पेसवानी 

श्री प्रताप सिंह राजकीय महाविद्यालय शाहपुरा में रिक्त पदों को लेकर एनएसयूआई ने सेवादल ब्लॉक अध्यक्ष जयंत जीनगर की अगुवाई में ज्ञापन सौंपा। पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष महेंद्र बंजारा ने बताया कि महाविद्यालय में कुल 34 पद है वर्तमान में सिर्फ 12 व्याख्याताओं का ही स्टाफ है। इससे यह तात्पर्य होता है कि 50 फीसदी व्याख्याता भी महाविद्यालय में नहीं है। शारीरिक शिक्षक, लाइब्रेरियन, स्वीपर, कंप्यूटर ऑपरेटर आदि के पद रिक्त है। छात्र नेता कैलाश एरवाल ने बताया कि जूलॉजी (प्राणी शास्त्र) विषय को यूजी पीजी में क्रमोन्नत करने की आवश्यकता है। प्राणी शास्त्र में पर्याप्त सीट नहीं होने के कारण छात्रों को मौका नहीं मिल पाता है। सेवादल अध्यक्ष जयंत जीनगर का कहना है कि प्रतापसिंह बारहठ राजकीय महाविद्यालय शाहपुरा 1965 से संस्थापित होकर शाहपुरा में अनवरत शैक्षिक उपलब्धियाँ अर्जित कर रहा है। स्थानीय महाविद्यालय में कला, विज्ञान एवं वाणिज्य संकाय में विद्यार्थियों का प्राचुर्य है। सम्प्रति कला संकाय में संस्कृत और भूगोल विभाग को स्नातकोत्तर दर्जा प्राप्त है, जबकि विज्ञान वर्ग में केवल रसायनशास्त्र में ही स्नातकोत्तर स्तरीय कक्षाएँ संचालित हैं। सभी समस्याओं को लेकर छात्र संघठन ने स्थानीय प्रतिनिधि संदीप जीनगर से भी मुलाकात कर कॉलेज की समस्याओं से अवगत करवाया। बताया कि 4 साल से यहां प्राचार्य नहीं है छात्रों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। संदीप जीनगर ने छात्रों की समस्याओं को लेकर तुरन्त उच्च शिक्षा मंत्री जी से फोन पर वार्ता कर अवगत करवाया मंत्री राजेंद्र यादव ने शीघ्र समस्या का निस्तारण करने का आश्वासन दिया।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर