करीब डेढ़ दर्जन लोगों की संदिग्‍ध मौत, क्‍या जहरीली शराब से गई जान?

 


पटना,

 बिहार में होली के एक दिन पहले से एक दिन बात तक करीब डेढ़ दर्जन लोगों की संदिग्‍ध मौतें हुईं हैं। बांका, भागलपुर एवं मधेपुरा में हुईं इन घटनाओं को जहरीली शराब से जोड़ा जा रहा है। कई मृतकों के स्‍वजनों ने भी मौत का कारण जहरीली शराब पीना बताया है। हालांकि, पुलिस व प्रशासन ने अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की है।

बांका में आठ लोगों की संदिग्‍ध मौत के बाद मचा हड

बांका के अमरपुर थाना क्षेत्र के कई गांवों में शुक्रवार से अभी तक नौ लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो चुकी है। एक साथ इतनी मौतों को जहरीली शराब से जोड़ा जा रहा है। मृतकों में अमरपुर निवासी रघुनंदन पोद्दार, कामदेवपुर निवासी राजा तिवारी, ओडैय निवासी  संजय मांझी, डुमरामा के सुमित कुमार, डुमरिया के आशीष कुमार सिंह, गोड़ा के विजय साह, बल्लीकिता के डब्लू साह, गुरुदेव साह एवं अमरपुर की बिंदु कुमार देवी शामिल हैं। दो लोगों को इलाज के लिए भागलपुर स्थित मायागंज अस्पताल रेफर किया गया है। मृतक संजय मांझी के स्वजनों ने बताया कि बाहर से खाना खाकर लौटने के बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई। मृतक रघुनंदन के स्वजनों के अनुसार पेट में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल ले जाया गया।

 

पुलिस व प्रशासन का पुष्टि से इनकार: खास बात यह है कि अधिकारी जहरीली शराब से मौत की पुष्टि नहीं कर रहे हैं। एसपी अरविंद कुमार गुप्ता एवं उत्पाद अधीक्षक अरूण मिश्रा के अनुसार उन्‍हें शराब पीने से मौत की सूचना तक नहीं है।

भगालपुर में पांच की मौत, एक की आंखों की रोशनी गई

भागलपुर के विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र स्थित नाथनगर इलाके के साहेबगंज मोहल्ले में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत हो गई है। जबकि, कई अन्‍य बीमार हैं। स्‍वजनों के अनुसार सभी ने होली के दिन शराब का सेवन किया था। एक मृतक विनोद राय की पत्नी ने बताया कि होली के दौरान उसके पति ने शराब पी थी। घटना में संदीप यादव, विनोद राय (50 वर्ष), मिथुन कुमार, नीलेश कुमार (34 वर्ष) की भी मौत हो गई है। इसके अलावा एक युवक अभिषेक कुमार उर्फ छोटू साह (24 वर्ष) का इलाज स्‍थानीय जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कालेज एवं अस्‍पताल में चल रहा है। उसके दोनों आंखों की रोशनी चली गई है।

घटना के विरोध में प्रदर्शन: घटना के विरोध में उग्र लोगों ने सड़क पर आगजनी कर परिचालन बाधित कर दिया उन्‍होंने पुलिस व शराब तस्‍करों की मिलीभगत के आरोप लगाए। इस बीच पुलिस ने दो महिलाओं, एक लड़की और एक दिव्यांग को शराब तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया है। विदित हो कि पिछले दिनों भी भागलपुर में एक शादी समारोह में शामिल पांच लोगोंं की मौत जहरीली शराब पीने के कारण हो गई थी।

मधेपुरा में चार की मौत, आधा दर्जन की हालत नाजुक

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत दिग्घी में बीते तीन दिनों के दौरान चार लोगों की संदिग्‍ध मौत हुई है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को दिग्घी वार्ड दो के नागेंद्र सिंह के पुत्र पुराकी सिंह (32) की मौत हो गई। फिर, शनिवार को लोक जनशक्ति पार्टी के प्रखंड अध्यक्ष नीरज निशांत सिंह बौआ की सहरसा में इलाज के दौरान मौत हो गई। इलाज के दौरान एक और युवक संजीव कुमार रमाणी उर्फ गोनू तथा एक अन्‍य की भी मौत हो गई। मृतकों में तीन एक ही गांव के हैं। जबकि, भानू कुमार (25), विकास कुमार (25), दीपक सिंह, अखिलेश सिंह, सनोज यादव, रघु यादव व कुंदन यादव कुमार सहित कुछ अन्‍य लोगों कर इलाज कई जगह चल रहा है, जिनमें कुछ की स्थित नाजुक बताई जा रही है।

गुरुवार की रात पी थी शराब: बताया जा रहा है कि सभी ने गुरुवार की रात एक ही स्‍थान पर शराब पी थी। इसके बाद उनकी हालत खराब होगी गई। स्‍थानीय प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र के प्रभारी डा. संजीव कुमार ने बताया कि स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में भर्ती इन मरीजों की स्थिति को देखते हुए दो एम्बुलेंस मंगाई गई।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर